16 मील के नाम से ही डर रहे लोग

मनाली—समर सीजन में की शुरुआत में ही 16 मील का टै्रफिक जाम मनाली के पर्यटन कारोबार पर असर डाल रहा है। यहां पहाड़ी से लगातार हो रहे भू-स्खलन व पानी के रिसाब का अब तक कोई हल नहीं निकल पाया है। ऐसे में 16 मील में रोजाना लंबा ट्रैफिक जाम लग रहा है। यहां पुलिस प्रशासन ने जवानों को तैनात तो कर डाला है, लेकिन गाडि़यों की संख्या उम्मीद से ज्यादा होने के कारण यहां ट्रैफिक भी वन-वे किया गया है। बावजूद इसके फिर भी 16 मील में घंटों ट्रैफिक जाम लग रहा है। कारण है पहाड़ी से एनएच पर हो रहे भू-स्खलन। सड़क पर दलदल बन जाने से वाहन चालकों भी खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे मंे एक से डेढ़ घंटे के सफर को दो से तीन घंटे लग रहे हंै। इसके अलावा डोभी पुल भी सुबह व शाम पुलिस जवानों की खासी कसरत करवा रहा है। यहां पर ट्रैफिक जाम लगना अब आम बात हो गई है। समर सीजन में मनाली शहर की सड़कें तो जाम हो ही रही हैं, मढ़ी व कोठी में भी ट्रैफिक जाम ने सैलानियों को परेशान कर डाला है। ऐसे में सीजन की शुरुआत में ही मनाली का पर्र्यटन कारोबार ट्रैफिक जाम की भेंट चढ़ने लगा है। स्थानीय कारोबारियों का कहना है कि समर सीजन में देश-विदेश से सैलानी मनाली घूमने पहुंचते हैं, लेकिन यहां लगने वाला ट्रैफिक जाम सभी के लिए आफत बन रहा है। उनका कहना है कि मनाली में ट्रैफिक जाम न लगे इसके लिए प्रशासन को कुछ विशेष प्रबंध करने चाहिए। उधर, एसपी कुल्लू शालिनी अग्निहोत्री का कहना है कि मनाली के ट्रैफिक प्लान पर काम किया जा रहा है।  इस बार सीजन के दौरान खासकर मनाली-रोहतांग सड़क पर सैलानियों को ट्रैफिक जाम से जुझना नहीं पड़ेगा।

You might also like