19 से पहले हर हाल में घर पहुंचेंगे लाहुली

कुल्लू  – कुल्लू जिला से सटे शीत मरूस्थल जिला लाहुल-स्पीति जाने वाले लोगों को 12 मई तक अपने आशियानों तक भेज दिया जाएगा, जिसके लिए उपायुक्त कुल्लू यूनुस ने पूरी तैयारी कर ली है। बीआरओ के साथ बात करने के बाद जल्द ही प्रशासन को जानकारी बीआरओ की ओर से मिल जाएगी कि किस समय लोगों को रोहतांग टनल से होते हुए समय रहते लाहुल भेजा जाना है, ताकि 19 मई से पहले सभी लाहुलवासी अपने घरों में पहुंचने के बाद मतदान के दिन पोलिंग बूथों में जाकर अपने मत का प्रयोग कर सकें। उपायुक्त यूनुस की मानें तो मास मूवमेंट जल्द करवाई जाएगी, ताकि लोग समय रहते लाहुल अपने घर पहुंच सकें। तीन बार भी अगर शिफ्ट लगानी पड़ी तो भी लगाई जाएगी। बीआरओ के अधिकारियों के साथ बात हो गई है। सूची भी जाने वालों की भेजी गई है। उम्मीद है कि दो दिन के भीतर जितने भी लोग हैं, उन सभी को भेज दिया जाएगा। वहीं, मौसम विभाग की ओर से 17 मई तक मौसम खराब रहने की चेतावनी के बाद से जिला लाहुल-स्पीति के लिए लगी कर्मचारयों की ड्यूटी के चलते उन्हें भी समय रहते लाहुल-स्पीति के लिए रवाना किया जा रहा है, ताकि समय रहते सभी पोलिंग स्टेशन तक पहुंच सकें। उपायुक्त की मानें तो लाहुल जाने वाले जितने भी मतदाता हैं, उन सभी को समय रहते लाहुल-स्पीति भेजा जाएगा, ताकि कोई भी मत करने से वंचित न रहे। जिला कुल्लू के भी दुर्गम क्षेत्रों के पोलिंग बूथों के लिए समय रहते सभी कर्मचारियों को भेजा जा रहा है।

जिला के बूथों पर मिलेगी हर सुविधा

सौ से अधिक जिला के बूथों में व्हील चेयर की भी व्यवस्था की गई है। इसी के साथ पीने का पानी व शौचालय की भी साफ-सफाई से लेकर बेहतर सुविधा सभी को मिले, इसका पूरा ध्यान रखा गया है। इसी के साथ जो आदर्श पोलिंग बूथ होंगे, वहां भी विशेष सुविधा रहेगी। यही नहीं, पोलिंग बूथों पर तीसरी आंख की भी पैनी नजर रहेगी, जिसके लिए एक पीठासीन अधिकारी भी तैनात किया जाएगा, जो कि उन गतिविधियों को कैमरे में कैद करेगा, जिस पर उन्हें संदेह होगा। उपायुक्त ने कहा कि इस बार मतदान को लेकर पूरी तैयारी की गई है। साथ ही पोलिंग बूथों में एक वाहन की व्यवस्था भी की गई है, जो कि दिव्यांग से लेकर सीनियर सिटीजन को ले जाने और लाने के लिए रहेगी।

You might also like