2833 ने घाटी में किया प्रवेश

लोगों का रोहतांग से होकर पैदल चलने का क्रम भी जारी

कुल्लू –जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति के लाहुल घाटी की ओर अब तक रोहतांग दर्रे और रोहतांग टनल से 2833 स्थानीय लोगों ने प्रवेश किया है।  जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त लाहुल-स्पीति अश्वनी कुमार चौधरी ने बताया कि इस वर्ष अत्याधिक बर्फबारी केचलते रोहतांग दर्रा से यातायात सुविधा आरंभ न हो पाने के चलते अभी तक लाहुल घाटी सड़क मार्ग से जुड़ नहीं पाई है। जिससे लोगों को घाटी में आवाजाही में दिक्कत आ रही थी। उन्होंने कहा कि लोगों को घाटी में लाने के लिए जिला प्रशासन ने सीमा सड़क संगठन के अधिकारियों से सामांजस्य बैठाकर रोहतांग टनल से भी लोगों को चरणबद्ध तरीके से घाटी में लाया जा रहा है ताकि घाटी के सभी मतदाता लोकतंत्र के महापर्व में भाग लेने के लिए घाटी पहुंच सक। जिला प्रशासन लगातार सीमा सड़क संगठन के अधिकारियों के संपर्क में है। उन्होंने बताया कि रोहतांग टनल से अप्रैल माह से 1177 तथा रोहतांग दर्रे से अभी तक 1656 लोग यहां पहुंचे हैं। प्रवासी मजदूरों की आवाजाही रोहतांग दर्रे से पैदल भी जारी है और घाटी में पैदल आने वाले लोगों की सुरक्षा और मार्गदर्शन के लिए कोकसर में बचाव दल चौकी तैनात की गई है। उन्होंने कोकसर का दौरा कर बचाव दल के लोगों से पैदल आने वाले लोगों की जानकारी हासिल की। उन्होंने कोकसर में बचाव दल टीम के कार्य की सराहाना की और कहा कि कोकसर में बचाव दल चौकी रोहतांग दर्रे से सड़क मार्ग खुलने तक कार्यशील रहेगी।

You might also like