39 बच्चों ने किया मंत्रोच्चारण

नाहन—श्री सत्य साई सेवा समिति नाहन द्वारा ईश्वरम्मा दिवस के बाल विकास दिवस कार्यक्रम का समापन रानीताल स्थित साई हॉल में मंगलवार को मनभावन एवं उपदेशात्मक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति के साथ संपन्न हुआ। विभिन्न स्कूलों के 39 बच्चों ने इस दौरान बहुत सुंदर मंत्रोच्चारण, भजन, नृत्य एवं नाटिकाओं के माध्यम से दर्शकों का स्वस्थ मनोरंजन किया। इस दौरान मानवीय मूल्यों पर प्रकाश डालते हुए प्रस्तुतियां दी गई। समामन कार्यक्रम के दौरान अंबिका सलारिया ने धन्य हो ईश्वरम्मा जग को दिया साई बाबा गीत के माध्यम से मार्मिक प्रस्तुति से दर्शकों को भाव-विभोर कर दिया, जबकि सरस्वती वंदना की सुंदर प्रस्तुति विदिशा द्वारा दी गई, जिसे खूब सराहना मिली। कार्यक्रम में चरित्र निर्माण ही शिक्षा का आधार और लक्ष्य पर शिवम ने विचार प्रस्तुत किए। वहीं बारिश की बूंदे सामूहिक गीत की प्रस्तुति बहुत ही बेहतरीन रही। इस दौरान प्रज्वलन गौतम का अंग्रेजी में मोबाइल के दुष्परिणाम पर विचार और भरत शर्मा, दिवांशी की टीम की लघु नाटिका जंक फूड खाने के दुष्परिणाम संदेशप्रद रही। इस दौरान मुख्यातिथि कायफा अलदीव संयोजक नेहरू युवा केंद्र सिरमौर ने प्रस्तुत कार्यक्रम की सराहना करते हुए श्री सत्य साईं सेवा समिति के मूल्य आधारित एक्टिविटी के प्रयासों को सराहा। जिला अध्यक्ष श्री सत्य साईं सेवा समिति नाहन प्रो. अमर सिंह चौहान ने बताया कि ईश्वरम्मा दिवस कार्यक्रमों के दौरान ज्वलंत और समसमायिक विषयों के अलावा चरित्र निर्माण पर बल दिया गया। वहीं भजनों, गीतों, लघु नाटिकाओं के माध्यम से आज के दौर में बढ़ते हुए मोबाइल, जंक फूड जैसी चीजों के दुष्परिणामों पर प्रकाश डाला गया है।

You might also like