40 डिग्री पहुंचा बिलासपुर का पारा

बिलासपुर—चिलचिलाती धूप ने रविवार को जिला में लोगों को बेहाल कर दिया। मई में अब तक के सबसे गर्म दिन ने पिछले रिकार्ड तोड़ दिए। अरसे बाद बिलासपुर में यह स्थिति बनी कि दोपहर में पारा 42 डिग्री सेल्सियस के आंकड़े पर पहुंच गया। इस बीच लू के थपेड़ों ने सड़क पर चलने वालों को खूब सताया। इससे कुछ देर के लिए मुख्य मार्गों से गलियों तक सन्नाटा भी रहा। रविवार का अवकाश लोगों ने घर में रहकर ही काटा। हालांकि शाम को लोग बाजारों में दिखाई पड़े। रविवार को सूरज ने सुबह से तल्ख तेवर दिखाए। आठ बजने के बाद ही गर्मी का एहसास होने लगा। दोपहर 12 बजे तक पारा 40 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। इससे लोग घरों में दुबके रहे। जरूरी कामकाज वाले भी बाहर निकले। इनको भी पूरा शरीर ढक कर निकलना पड़ा। धूप से बचने के लिए छाता, चश्मा, अंगौछा के साथ स्कार्फ  का भी सहारा लिया गया। बाइक सवारों को सबसे ज्यादा दिक्कत हुई। पैदल राहगीर भी कम नजर आए। शाम को गर्मी में थोड़ी कमी के बाद लोग सड़क पर नजर आए। इस बीच कई बार तेज हवाओं ने परेशानी और बढ़ाई। मौसम विभाग के अनुसार मौसम में नमी अधिक होने से तापमान अचानक बढ़ रहा है। विभाग की मानें तो मई व जून में तापमान के ज्यादा ऊपर पहुंचने की संभावनाएं हैं। वहीं, अंदेशा जताया जा रहा है कि आगामी कुछ दिनों में अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। भीषण गर्मी के कारण पूरा बिलासपुर प्रभावित है और जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सूरज लगातार आग उगल रहा है। शहर से लेकर ग्रामीण अंचलों तक सभी को सूर्य की तपिश ने प्रभावित किया है, तो भीषण गर्मी में कूलर पंखों ने भी जवाब दे दिया है।

You might also like