800 रुपए फीस पर भड़के बेरोजगार युवा

धर्मशाला—शिक्षा बोर्ड की अध्यापक पात्रता परीक्षा टेट के लिए 800 रुपए फीस पर बेरोजगार शिक्षित वर्ग भड़क उठा है। इसके चलते बेरोजगार शिक्षित महासंघ ने प्रदेश सरकार और शिक्षा विभाग से स्कूल शिक्षा बोर्ड की फीस कम करने की मांग उठाई है। युवाओं ने आरोप लगाते हुए कहा है कि एक ही परीक्षा के हमीरपुर आयोग से तीन गुना अधिक फीस वसूली जा रही है।  बेरोजगार शिक्षित महासंघ हिमाचल प्रदेश ने सरकार व शिक्षा विभाग को शिकायत पत्र भेजा है। इसमें उन्होंने प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला की ओर से आयोजित की जा रही अध्यापक पात्रता परीक्षा टेट पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने आरोप लगाए हैं कि शिक्षा बोर्ड ने बेरोजगार युवाओं से मनमानी फीस वसूल कर रहा है। शिक्षा बोर्ड में परीक्षा के लिए सामान्य वर्ग से 800 रुपए व आरक्षित वर्ग से 500 रुपए फीस ली जा रही है। जबकि कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर टेट परीक्षा का आयोजन सामान्य वर्ग के लिए 360 रुपए और आरक्षित वर्ग के लिए 120 रुपए के तहत करवाते हैं। बेरोजगार शिक्षित महासंघ जिला कांगड़ा के पदाधिकारियों में से सुरेश कुमार, शिल्पा देवी, अजय, हेमराज, मोनिका, सुरजीत कुमार, सोनिया कुमारी, जसवीर सिंह, विजय कुमार, सतीश कुमार, संतोष कुमार, अभिनव, स्वरूप सिंह, मानसी, सुलेश्वना देवी, कविता, शिल्पा चौधरी, कनिका, मुकेश कुमार, रोहित कुमार, कमल किशोर व अजीत सिंह का कहना है कि बेरोजगार युवाओं से शिक्षा बोर्ड बड़े स्तर पर उगाही कर रहा है। उन्होंने कहा कि शिक्षा बोर्ड की अधिक फीस को लेकर इससे पहले भी सरकार व शिक्षा विभाग से गुहार लगा चुके हैं। बावजूद इसके अब तक तीन से लेकर चार गुना तक अधिक फीस बढ़ोतरी को बिलकुल भी कम नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि शिक्षा बोर्ड की इस बार से ही फीस कम ही जानी चाहिए, ऐसा न होने पर युवाओं को उग्र आंदोलन करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। 

You might also like