PM मोदी ने बताया- क्यों उठाया पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी-INS विराट का मामला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि राजीव गांधी और आईएनएस विराट का मसला उन्हें खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिया है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी मोदी की छवि खराब करना चाहते हैं, लेकिन मोदी की छवि खान मार्केट या लुटियंस गैंग द्वारा बनाई गई नहीं जिसे कोई तार-तार कर पाए. अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में पीएम मोदी ने ये बातें कहीं. गौरतलब है कि गत 8 मई को दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की छुट्टियों का मामला उठाते हुए पूछा था कि क्या आपने सुना है कि कोई अपने परिवार के साथ युद्धपोत से छुट्टियां मनाने जाए? पीएम मोदी ने कहा था कि देश की रक्षा करने वालों को अपनी जागीर कौन समझता रहा है. ये भी मैं आज दिल्ली की धरती से उन लोगों की आंख में आंख मिलाकर देश और दिल्ली की जनता को बताना चाहता हूं. कांग्रेस के नामदार परिवार ने आईएनएस विराट का निजी टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया, उसका अपमान किया था. ये बात तब की है जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे और 10 दिन की छुट्टियां मनाने निकले थे. इंटरव्यू में जब पीएम मोदी ने से पूछा गया कि आईएनएस विराट का मसला कहां से आया, तो उन्होंने कहा, ‘यह कोई नया मसला नहीं है. कांग्रेस अध्यक्ष ने जब एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि सेना मोदी की निजी जागीर नहीं है. आप सबने (मीडिया ने) इस पर ध्यान नहीं दिया. फिर मुझे कहना पड़ा कि व्यक्तिगत जागीर क्या होती है. राजीव गांधी का मसला मेरा नहीं है. आप उनकी मदद करना चाहते हैं तो राजीव गांधी के मसले को हाईलाइट कर सकते हैं. यह आपका निर्णय है.’ पीएम मोदी ने कहा कि ये चीजें तब भी मीडिया में छपी थीं, तब कोई एडमिरल बयान देने नहीं आया था. कहते हैं न कि बात निकलेगी तो दूर तलक जाएगी. पीएम मोदी ने कहा कि इसी तरह मैंने यह पढ़ा कि झारखंड में राहुल गांधी ने कहा कि वह नरेंद्र मोदी की छवि को तार-तार करना चाहते हैं. वह किसी भी तरह से मेरी छवि खराब करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘मोदी की छवि दिल्ली के खान मार्केट गैंग ने नहीं बनाई है, लुटियंस दिल्ली ने नहीं बनाई है, 45 साल की मोदी की तपस्या ने छवि बनाई है. अच्छी या बुरी जो भी है. आप इसे खराब नहीं कर सकते. लेकिन लुटियंस और खान मार्केट गैंग ने एक पूर्व प्रधानमंत्री की छवि ‘मिस्टर क्लीन, मिस्टर क्लीन’ की बनाई थी, वह किस तरह से खत्म हो गई?’ 

You might also like