अंतिम शाम फरहान के नाम

शिमला —अंतरराष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव के अंतिम दिन मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर बतौर मुख्यातिथि मौजूद हुए। समर फेस्टिवल में बतौर मुख्यअतिथि पहुंचे मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अंतरराष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव की स्मारिका का विमोचन भी किया। ग्रीष्मोंत्सव के अंतिम दिन मुंबई से आए बॉलीवुड सिंगर पार्श्व गायक फरहान साबरी और मधुश्री भट्टाचार्य मुख्य आकर्षण रहें। इस दौरान बॉलीवुड सिंगर फरहान खान और मधुश्री भट्टाचार्य ने एक से बढ़कर एक बॉलीवुड गानों से सभागार में बैठे लोगों का खूब मनोरंजन किया। इस मौके पर फरहान खान ने दिवानी मस्तानी, बाजीराव , यमला पगला, बाप का माल नई फिल्मों के गाने गाकर दर्शकों की खुब वाहवाही बटौरी। मुंबई से आई स्टार कलाकार मधू श्री भट्टाचार्य ने भी सोजा जरा, वाजी वाजी, कभी नीम नीम, सइयां, तुम्हें आज जो मैने देखा जैसे कई गानें गाकर खूब वाहवाही बटौरी। समर फेस्टिवल में शिमला के विभिन्न विद्यालयों से आए छात्रों ने भी विभिन्न प्रस्तुतियां दी। इनमें चैप्सली स्कूल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला छोटा शिमला, डीएवी स्कूल लक्कड़ बाजार, ऑकलैंड हाउस और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला ढली शिमला द्वारा प्रस्तुतियां विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए गए। कार्यक्रम के दौरान भाषा एवं संस्कृति विभाग द्वारा राज्य स्तरीय लोक नृत्य प्रतियोगिता आयोजित की गई, जिसमें जिला मंडी, जिला किन्नौर और जिला कांगड़ा द्वारा प्रस्तुति दी गई। इसके अलावा स्थानीय कलाकारों में पंचम कुमार, कुलदीप नाहर, मुकेश कुमार, मनीषा देवलस्या, डॉक्टर लहरू राम सांख्यान, राजेन्द्र कुमार, शिवदत्त ठाकुर, शमशेर शेरा कॉंसेटा, संतोष कुमार, पूजा, हेमराज, गोपाल शर्मा, आशा पुष्कर तेजी और तनिष्क शर्मा द्वारा प्रस्तुतियां दी जाएंगी। हेमंत शर्मा ने एक से बढ़कर एक नाटियां गाकर खूब धमाल मचाया।

You might also like