अपनी मर्जी से चंदा दें कारोबारी

ठियोग —पिछले लंबे अरसे से स्थानीय प्रशासन एंव व्यापार मंडल ठियोग व नगर परिषद कई मर्तबा ठियोग शहर के बीच से तहबाजारियांे को खदेड़ने को लेकर कई मर्तबा प्रयास कर चुका है। रेहड़ी फड़ी वाले कुछ दिन शंाति से गुजारने के फिर से अपनी पुरानी जगहों पर अपने डेरा जमा देते है। शुक्रवार को व्यापार मंडल ठियोग के अध्यक्ष अजय, कोषाध्यक्ष कुलवंत सिंह ठाकुर, हलवाई ढाबा यूनियन के प्रधान नंद कुमार शर्मा ने एसडीएम ठियोग से मुलाकात कर व्यापरियों को हो रही परेशानी हो लेकर अवगत करवाया। व्यापार मंडल ठियोग की ओर से आयोजित प्रेसवार्ता में बताया गया कि पिछले 25 मार्च को स्थानीय प्रशासन,नप व रेहड़ी फड़ी यूनियन के साथ बैठक का आयोजन कर रणनीति बनाई गई थी। दो माह बीत जाने के बाद आज स्थिति जस की तस है। व्यापार मंडल ठियोग ओर से अपील की गई कि इन तहबाजारियों को शहर के किसी कोने में स्थान दिया जाए। साथ ही बाहरी राज्यों से सामान बेचने वालों की तादात दिन प्रति दिन बढ़ी रही है। इस पर लगाम लगाना बहुत अनिवार्य है। इसके बाद शहर के बीच में बसी स्बजी मंडी के कारण भी यंहा पैदल चलने वालों को परेशानी का समाना करना पड़ता है। शिमला में हो रहे समर फेस्टिवल को लेकर व्यापारी अपनी मर्जी से चंदा दें। व्यापार मंडल ठियोग ने व्यापारियों से अपील की है कि वह किसी भी विभाग के अधिकारी को अपनी मर्जी से सहयोग दे किसी भी तरह के दबाब को लेकर तथ्य पर अधरित शिकायत की करें।  एसडीएम ठियोग एमडी भारद्वाज ने बताया कि हाल ही में नप के ईओ का कार्यभार तहसीलदार ठियोग को सौंप दिया गया। एक सप्ताह में बैठक करने के बाद स्थानीय प्रशासन पुलिस, नप, व्यापार मंडल सभी को साथ में लेकर उचित कार्रवाई करेगा। उधर व्यापार मंडल ठियोग की ओर से बताया गया कि इस मर्तबा भी अगर प्रशासन की ओर से कोताही बरती गई तो मजबुरन कोई ठोस कदम उठाना होगा।

You might also like