अब और इंतजार नहीं, 18 माह में शुरू होगा काम

नई दिल्ली – देश में लोकसभा चुनाव और फिर नतीजों में बीजेपी को मिली प्रचंड जीत के बाद एक बार फिर से अयोध्या में राममंदिर की मांग तेज हो गई है। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने इस मुद्दे पर चर्चा के लिए 19-20 जून को हरिद्वार में अपने शीर्ष नेताओं की बैठक बुलाई है। विश्व हिंदू परिषद का दावा है कि इस परियोजना पर 18 महीने में काम शुरू हो जाएगा। राममंदिर के आंदोलन में विश्व हिंदू परिषद सबसे सक्रिय संगठन रहा है। विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने साफ किया कि उनका संगठन राममंदिर निर्माण पर अनिश्चितकाल तक के लिए इंतजार करने को तैयार नहीं है और संगठन ने एनडीए सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले महीने के भीतर ही नरेंद्र मोदी सरकार को उनके वादे के बारे में याद दिलाने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि एक बात साफ है, विहिप दो मुद्दों पर समझौता नहीं करेगी – पहला, भगवान राम के जन्मस्थान पर सिर्फ मंदिर बनेगा और दूसरा, अयोध्या की सांस्कृतिक सीमाओं के भीतर कोई मस्जिद नहीं हो सकती।

You might also like