अब कौन करेगा दो वक्त की रोटी का जुगाड़

चंबा  —उम्र भर घर से बाहर जिंदगी को दांव पर लगा कर परिवार को चलाने वाले चुराह उपमंडल के तहत आने वाली हिमगिरी पंचायत के दयोतनार निवासी हरी सिंह के घर अचानक मातम छा गया है। भूटान जम्मू जैसे स्थलों पर कपंनियों में बतौर प्लांट ऑपरेटर सेवाएं देने के बाद हरी सिंह ने हाल ही मंे प्रदेश में एफकॉन कंपनी ज्वायन की थी। नए घर की नींव रखने घर पहुंचे हरि सिंह ने अब देवभूमि हिमाचल में ही कार्य कार्य करने की ठानी थी। जिसके चलते उन्होंने हाल ही मंे एफकॉन कंपनी में सेवाएं देना शुरू की थी। लेकिन प्रदेश में हरि सिंह के लिए शनि भारी रहा ओर फर्स्ट मई शनिवार के दिन प्लांट की चपेट मंे आने से उसकी मौत हो गई। घटना शनिवार करीब साढ़े छह बजे की है। बताया जा रहा है कि जिस समय यह घटना घटी उस समय दो इंजिनीयर कुछ ही दूरी पर खड़े थे ओर हरी सिंह किसी कार्य को लेकर प्लांट के अंदर गया था, इस दौरान अचानक प्लांट चल पड़ा। जिससे हरी सिंह का सिर मशीन की चपेट मंे आ गया। बताया जा रहा  है कि कंपनी की ओर से लगाया जा रहा यह प्लांट ऑटोमेटिक था ओर इसके ऑटोमिशन की स्टीक जानकारी न होने की बजह से घटना घट गई। हरी सिंह की घटना की खबर सुनते ही घर में चींखो पुकार मच गई है। हरी सिंह के घर में पत्नी के साथ दो बेटे हैं। उधर मंडी पुलिस अधीक्षक गुरदेव सिंह का कहना है कि हरी सिंह की मौत को लेकर कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज कर कर्रवाई शुरू कर दी है।

You might also like