अब चलती ट्रेन में मसाज

भारतीय रेलवे की नई सर्विस, फिलहाल 39 रेलों में ही मिलेगी सुविधा

नई दिल्ली – भारतीय रेल के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है जब यात्रियों के लिए चलती ट्रेन में मसाज सर्विस उपलब्ध होगी। रेलवे के एक अधिकारी ने शनिवार को जानकारी दी कि फिलहाल मालिश की सुविधा इंदौर से चलने वाली 39 ट्रेनों में उपलब्ध होगी। अधिकारी ने बताया कि यह प्रस्ताव वेस्टर्न रेलवे जोन की रतलाम डिविजन की ओर से रखा गया। अधिकारी ने कहा कि भारतीय रेल के इतिहास में पहली बार यात्रियों की सुविधा के लिए चलती ट्रेन में मसाज सर्विस उपलब्ध कराई जाएगी। इससे न केवल रेवेन्यू बढ़ेगा, बल्कि यात्रिययों की संख्या भी बढ़ेगी। रेलवे को इससे 20 लाख रुपए का अतिरिक्त सालाना रेवेन्यू (राजस्व) मिलेगा और अनुमान है कि 20,000 सर्विस प्रोवाइडर्स को टिकट बेचने से 90 लाख रुपए की कीमत के टिकटों की अतिरिक्त बिक्त्री भी होगी। रेलवे बोर्ड के मीडिया एंड कम्युनिकेशंस के निदेशक, राजेश बाजपेई ने कहा कि ऐसा पहली बार है, जबकि इस तरह का कोई कॉन्ट्रैक्ट साइन किया गया है। बात करें कीमत की तो हर बार फुट मसाज और हैड मसाज के लिए 100 रुपए देने होंगे। यह स्कीम रेलवे की उस स्कीम का हिस्सा है, जिसमें सभी जोन और डिविजनों से नए और इनोवेटिव आइडिया देने को कहा गया था ताकि किराए के अतिरिक्त दूसरी चीजों से रेवेन्यू जेनरेट हो सके।

You might also like