अब यूटी में नहीं दिखेगी गंदगी

सारंगपुर से डोर-टू-डोर कूड़ा पृथककरण की योजना का आगाज, महापौर राजेश कालिया ने दिखाई हरी झंडी

चंडीगढ़ – चंडीगढ़ के महापौर राजेश कालिया ने निगमायुक्त केके यादव की उपस्थिति में गांव सारंगपुर में कचरे के डोर-टू -डोर पृथककरण की योजना का शुभारंभ किया। इसके लिए 10 वाहनों को रवाना किया। महापौर ने बताया कि ये वाहन अलग-अलग तरीके से डोर-टू-डोर कूड़ा एकत्र करेंगे, यानी गांव सारंगपुर से करीब 450 घरों और गांव खुड्डा जस्सू में करीब 594 घरों से अलग-अलग केबिन में गीला और सूखा कचरा एकत्र किया जाएगा। उन्होंने कहा कि नगर निगम ने गीले व सूखे घरेलू कचरे के डोर-टू-डोर कलेक्शन को अंजाम देने के लिए 3.2 क्यूबिक मीटर क्षमता के 99 वाहन खरीदे हैं। सूखा और गीला कचरा अलग-अलग कर लोगों  द्वारा दिया जाएगा और वाहनों में भी अलग अगल डिब्बों में रखा जाएगा। महापौर ने कहा कि हाल ही में निगम को हस्तांतरित 13 गांवों के लिए 55 वाहनों का उपयोग किया जाएगा और शेष 44 वाहनों का उपयोग शहर के उन क्षेत्रों में प्रयोग किया जाएगा, जहां अभी तक कचरा एकत्र करना आरंभ नहीं हुआ है।  शेष गांवों में भी अगले कुछ दिनों के भीतर इन वाहनों के माध्यम से अलग-अलग कचरे का संग्रहण शुरू हो जाएगा। निगम के इस अभियान का मुख्य उद्देश्य शहर में स्वच्छता बनाए रखना है व लोगों को सफाई के प्रति सजग करना है। इस अवसर पर महापौर के साथ अतिरिक्त आयुक्त एसके जैन, पार्षद  हरदीप सिंह सहित कई गणमान्य मौजूद रहे।

You might also like