अब हर किसान को सालाना छह हजार

मोदी मंत्रिमंडल का पहला बड़ा फैसला

नई दिल्ली –दूसरे कार्यकाल की अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में पीएम मोदी ने किसानों के लिए बड़ी सौगात दी है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब सभी किसानों को सालाना 6000 रुपए मिलेंगे। इसके अतिरिक्त किसानों के लिए पेंशन योजना का ऐलान किया गया है। पीएम किसान योजना पहले सिर्फ लघु और सीमांत किसानों के लिए थी और अब तक इस योजना में दो हेक्टेयर तक जमीन के मालिक छोटे और मझोले किसानों को ही शामिल किया गया था, लेकिन भाजपा ने अपने चुनावी संकल्प पत्र में इस योजना में सभी किसानों को शामिल करने का वादा किया था, जिस पर पहली ही कैबिनेट मीटिंग में मुहर लगाई गई। इस योजना का देश के 14.5 करोड़ किसानों को सीधा लाभ मिलेगा। कैबिनेट मीटिंग में लिए गए फैसलों की जानकारी देते हुए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि पीएम किसान सम्मान निधि के तहत तीन करोड़ से अधिक किसानों के खातों में पैसा पहुंच चुका है। अभी तक 12.5 करोड़ किसान इस योजना के तहत कवर हो रहे थे। करीब दो करोड़ किसान छूट रहे थे। अब सभी किसान इसके दायरे में होंगे। इस योजना पर पहले 75 हजार करोड़ खर्च होते, लेकिन अब 12 हजार करोड़ रुपए और खर्च बढ़ेगा। यानी अब 87 हजार करोड़ रुपए सालाना खर्च होगा।

किसानों-व्यापारियों  के लिए पेंशन योजना

इसके अलावा किसानों और छोटे व्यापारियों के लिए पेंशन योजना का भी ऐलान किया गया है। पेंशन योजना के तहत 18 से 40 वर्ष आयु के लोगों को 60 साल की उम्र के बाद प्रति महीने तीन हजार रुपए पेंशन मिलेगी। इस योजना में 10 हजार करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। पेंशन स्कीम के तहत 18 वर्ष के उम्र के शख्स को 55 रुपए प्रति महीने का योगदान देना होगा। सरकार भी इतने का ही योगदान देगी।

पांच जुलाई को पेश होगा बजट

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने शुक्रवार को 17वीं लोकसभा के पहले संसद सत्र का ऐलान कर दिया है। संसद का पहला सत्र 17 जून से शुरू होगा, जो 26 जुलाई तक चलेगा। बता दें कि 19 जून को लोकसभा स्पीकर का चुनाव होगा, जिसके बाद 20 जून से बजट सत्र की शुरुआत होगी। 20 जून को ही संसद भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद  का अभिभाषण होगा और उसके बाद पांच जुलाई को बजट पेश किया जाएगा।

You might also like