अवैध निर्माण पर 15 दिन में करो कार्रवाई

मंडी—मंडी जिला में हो रहे अनधिकृत निर्माण पर प्रशासन ने कार्रवाई करने की तैयारी कर ली है। जिला प्रशासन ने सभी एसडीएम को 15 दिन के भीतर इस पर कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। अनधिकृत निर्माण करने वालों को अब प्रशासन की कड़ी कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है। उपायुक्त मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने इस मामले में अधिकारियों को कड़ाई से नियम लागू करने के निर्देश दिए हैं। उपायुक्त कार्यालय में अनधिकृत निर्माण को रोकने के लिए गठित जिला स्तरीय समन्वयक समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि संबंधित अधिकारी अनधिकृत निर्माण पर अंकुश लगाएं। उन्हांेने कहा कि नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ  कड़ी कार्रवाई करें। उन्होंने बैठक में जिला में अनधिकृत निर्माण कार्यों को रोकने के लिए नगर एवं ग्राम योजना अधिनियम के तहत उठाए गए कदमों पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने सुंदरनगर, जोगिंद्रनगर, बल्ह व सदर के एसडीएम को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में 15 दिन के भीतर सभी संबंधित विभागों की बैठक बुलाएं और अनधिकृत निर्माण मामलों में कड़ी कार्रवाई करें। उपमंडलों के साथ-साथ नगर परिषद क्षेत्र में अनधिकृत निर्माण को लेकर दिए गए नोटिस के मामलों की समीक्षा करें और जहां आवश्यक है, वहां तुरंत कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि नगर एवं ग्राम योजना अधिनियम, 1977 की धारा 16 सी के उल्लंघन में हो रहे भूमि उप विभाजन के बारे में भी उचित कार्रवाई अमल में लाएं तथा इस मुद्दे पर राजस्व अधिकारियों के साथ बैठक कर उपयुक्त कार्यनीति तैयार करें। बैठक में एएसपी मंडी पुनीत रघु, एसडीएम सदर सनी शर्मा, एसडीएम सुंदरनगर राहुल चौहान, डीएफओ मुंशी राम, नगर एवं ग्राम योजनाकार मंडी रीता महेंद्रू, अधीक्षण अभियंता विद्युत विभाग एके खुनोटिया, सहायक नगर योजनाकार निशा कपूर और समस्त कार्यकारी अधिकारी नगर परिषद सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

You might also like