आंधी-तूफान से 26 की मौत

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में गुरुवार रात आंधी-तूफान से हुए अलग-अलग हादसों में 26 लोगों की मौत हो गई, जबकि 57 से ज्यादा लोग जख्मी हैं। मैनपुरी में सबसे अधिक छह लोगों की जानें गईं। मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने शुक्रवार को बताया कि आंधी का खतरा अभी टला नहीं है। अगले दो से तीन दिनों तक परेशानी बनी रहेगी। लोगों को आंधी चलने के दौरान सतर्क रहने की सलाह दी गई है। बीती रात प्रदेश के मैनपुरी, एटा, कासगंज, मुरादाबाद, महोबा, हमीरपुर, फर्रुखाबाद, बदायूं और पीलीभीत में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई। कई जिलों में ओले भी गिरे। मुख्यमंत्री योगी आदित्नाथ ने पीडि़त परिवारों के लिए आर्थिक मदद का ऐलान किया। वहीं, राहत आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव कार्य चलाया जा रहा है। मैनपुरी में सबसे अधिक छह, एटा और कासगंज में तीन-तीन और मुरादाबाद, महोबा, हमीरपुर, फर्रुखाबाद, बदायूं और पीलीभीत में एक-एक लोगों की मौत हुई है। इनमें से ज्यादातर मौतें बिजली और आंधी के दौरान पेड़ गिरने की वजह से हुईं। वहीं, कई जगहों से भी मौतों की सूचना है।

You might also like