आंध्र प्रदेश में होंगे पांच उपमुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने लिया फैसला, बैठक में ऐलान कर चौंकाया

अमरावती -आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने फैसला किया है कि वह राज्य में एक नहीं बल्कि पांच उपमुख्यमंत्री नियुक्त करेंगे। अभी तक देश के किसी भी राज्य में ऐसा पहले कभी नहीं किया गया। रेड्डी के मंत्रिमंडल में अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक और कापू समुदाय से एक-एक डिप्टी सीएम होंगे। उन्होंने शुक्रवार को पार्टी विधायकों की बैठक के बाद यह ऐलान किया। बैठक को संबोधित करते हुए जगन ने कहा कि वह नए मंत्रियों को लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए लेंगे। उन्होंने जानकारी दी कि 25 सदस्यीय मंत्रिपरिषद का शपथग्रहण शनिवार को होगा। रेड्डी के इस फैसले के बाद पार्टी के विधायक एमएम शैक ने खुशी जताई है। उन्होंने भरोसा जताया है कि जगन भारत में अब तक के सर्वश्रेष्ठ सीएम साबित होंगे। रेड्डी ने बताया कि वह अढ़ाई साल बाद कैबिनेट में बदलाव करेंगे। उन्होंने विधायकों से लोगों की समस्याओं को लेकर सावधानी से काम करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि लोगों की निगाहें सरकार के प्रदर्शन पर हैं और उन्हें लोगों को वाईएसआरसीपी की सरकार और पिछली सरकार के बीच अंतर दिखाना है। बता दें कि राज्य में शानदार प्रदर्शन करते हुए वाईएसआरसीपी ने विधानसभा चुनाव में 175 में से 151 सीटें अपने नाम कीं। चंद्रबाबू नायडू की तेलुगू देशम पार्टी को करारी हार का सामना करना पड़ा। पार्टी को सिर्फ 23 सीटें हाथ लगीं।

You might also like