आईजीएमसी के होस्टल से पांच डाक्टर सस्पेंड

शिमला –आईजीएमसी के होस्टल में जाम छलकाना मेडिकल के छात्रों को भारी पड़ गया है और प्रशासन ने इस मामले में पांच प्रशिक्षु डाक्टरों को सस्पेंड कर दिया है। रविवार देर रात आईजीएमसी के होस्टल में ये मेडिक ोज अपने कमरे में शराब के साथ बर्थ-डे पार्टी मना रहे थे, जिन्हें रंगे हाथों पकड़ा गया था। इस पर अनुशासन कमेटी ने आगामी कार्रवाई करते हुए दो मेडिकल छात्रों को होस्टल से हमेशा के लिए सस्पेंड कर दिया है, वहीं तीन अन्य को तीन माह के लिए होस्टल से सस्पेंड कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि इसमें तीन इंटर्न और तीन एमबीबीएस के थर्ड ईयर के छात्र हैं। फिलहाल प्रदेश के मेडिकल कालेजों के कार्यक्रमों में नशेड़ी मेडिकोज के ज्यादा मामले आते देख प्रदेश सरकार भी गंभीर हो गई है। प्रदेश सरकार ने इस ओर निर्देश जारी किए हैं, जिनमें साफ कहा गया है कि कालेजों में आयोजित होने वाले कार्यक्र मों में भी यदि कोई मेडिकल छात्र नशे का प्रयोग करते पकड़ा गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सूचना है कि मेडिकल कालेजों से ये शिकायतें मिल रही हैं कि यहां के कार्यक्रमों में अकसर मेडिकोज शराब का सेवन कर रहे हैं। इसके चलते अब डायरेक्टर मेडिकल एजुकेशन की ओर से सख्ती बरती गई है। सभी कालेज प्रशासन को सतर्कता बरतने के निर्देश जारी कर दिए हैं। कहा गया है कि डाक्टरों की स्वास्थ्य को लेकर छवि यदि बेहतर नहीं हो तो यह समाज के लिए अच्छा संकेत नहीं है। लिहाजा प्रदेश सरकार ने मेडिकल कालेजों के कार्यक्रम में नशे के प्रयोग में पकड़े गए मेडिकोज़ पर तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए हैं।

You might also like