आईजीएमसी में हार्ट अटैक पर बचाने वाला इंजेक्शन फ्री

शिमला —प्रदेश के सबसे पुराने मेडिकल कालेज में अब हार्ट अटैक पर बचाने वाला इंजैक्शन मरीजों को फ्री दिया जाएगा। बाजार में इसकी कीमत कम से कम 42 हजार के करीब है। अब अस्पताल आने पर टी-नेट-टी नाम का यह इंजैक्शन मरीजों को फ्री मिलेगा। प्रदेश सरकार के निर्देशों के बाद आईजीएमसी में मंगलवार से यह सुविधा मरीजों को उपलब्ध हो जाएगी। गौर हो कि हार्ट अटैक के निश्चित तय समय अवधि के तहत यदि मरीज को अस्पताल पहुंचा दिया जाता है और उस दौरान उसे यह इंजैक्शन निशुल्क मिल जाए तो मरीज की जान आसानी से बचाई जा सकती है। विशेषज्ञों का यह भी मानना है कि यदि इंजैक्शन जल्द से जल्द मरीज को लगे तो उसे स्टंट और बाईपास से भी छुटकारा मिल सकता है। गौर हो कि प्रदेश में हर वर्ष 30 से 40 मौतें हार्ट अटैक से हो रही हैं। सबसे ज्यादा कारण यह भी बताया जा रहा है कि मरीज समय पर अस्पताल नहीं पहुंच पा रहे हैं। प्रदेश सरकार के द्वारा मरीजों को स्वास्थ्य सुविधा देने में आईजीएमसी ने पहल की है। आईजीएमसी एमएस डा. जनकराज का कहना है कि प्रदेश सरकार के तहत आईजीएमसी यह पूरी कोशिश कर रहा है कि सरकार जो भी योजनाएं चला रही है उसका सही तरह से पालन किया जाए। वहीं डिप्टी एमएस डा. राहुल गुप्ता का कहना है कि मरीज की जान बचाने वाला यह इंजेक्शन अब अस्पताल में मरीजों को फ्री मिलेगा।

You might also like