आईजीएमसी में होगा मेडिकल

हमीरपुर—नेपाली मूल की मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म मामले में नया मोड़ आ गया है। हाई कोर्ट में पीआईएल के बाद अब पीडि़त का मेडिकल आईजीएमसी में करवाया जाएगा। इसके लिए हमीरपुर से पुलिस दल पीडि़त बच्ची को लेकर शिमला चला गया है।  बच्ची के हमीरपुर में हुए मेडिकल से परिजन संतुष्ट नहीं थे। इस कारण जनहित याचिका हाई कोर्ट में दायर की गई थी। हाई कोर्ट के निर्देशों के बाद पुलिस बच्ची व इसकी मां को साथ लेकर शनिवार को ही शिमला रवाना हो गई है। सामाजिक संगठनों ने राज्यपाल व हाई कोर्ट को पत्र लिख बच्ची व इसके परिवार को इनसाफ दिलाने की मांग की थी। जानकारी के अनुसार हमीरपुर मेडिकल कालेज में बनी मेडिकल रिपोर्ट से संतुष्ट न होने के कारण व कुछ दिनों से बच्ची की तबीयत भी खराब रहने व पेट में दर्द होने के कारण सामाजिक संगठनों व सीटू संगठन ने गवर्नर को शिकायत पत्र लिखकर दोबारा मेडिकल करवाने की मांग की थी। इस पर हाई कोर्ट से शुक्रवार शाम को बच्ची का दोबारा मेडिकल करवाने के निर्देश हमीरपुर पुलिस को दिए। जानकारी मिली है कि पुलिस बच्ची को शनिवार सुबह ही सीएमओ कार्यालय मेडिकल करवाने के लिए ले गई, लेकिन परिजनों की असंतुष्टता के बाद बच्ची को आईजीएमसी शिमला में मेडिकल करवाने के लिए भेज दिया गया। बच्ची के साथ उसकी मां, परिजन व पुलिस की टीम भी रवाना हुई। इस मामले में पुलिस को अभी भी फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार है। बता दें कि साढ़े पांच साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के मामले में आरोपी को शुक्रवार को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। इस संदर्भ में एसपी हमीरपुर  अर्जित सेन ठाकुर ने बताया कि हाई कोर्ट के निर्देश के बाद मासूम  बच्ची का मेडिकल आईजीएमसी शिमला करवाया जा रहा है। बच्ची के साथ, उसके परिजन व पुलिस की टीम शनिवार को रवाना हुई है।

You might also like