आज विंडीज की बारी

वर्ल्डकप सेमीफाइनल की राह मजबूत करने उतरेगी टीम इंडिया

मैनचेस्टर -विश्वकप में अपराजेय रहकर अपना अभियान सफलतापूर्वक आगे बढ़ा रही भारतीय क्रिकेट टीम गुरुवार को वेस्टइंडीज़ के खिलाफ जीत के साथ सेमीफाइनल की अपनी उम्मीदों को मजबूत करने के लिए उतरेगी।  विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम पांच मैचों में चार जीत और एक मैच रद्द रहने के बाद तालिका में तीसरे नंबर पर है और उसके फिलहाल नौ अंक हैं। आस्ट्रेलिया 12 अंकों के साथ सेमीफाइनल में जगह पक्की कर चुकी है और अब शेष तीन पायदानों के लिए न्यूजीलैंड, भारत और इंग्लैंड के बीच होड़ है। भारतीय टीम प्रयास करेगी कि वह हर हाल में बाकी बचे मैचों में अपने प्रदर्शन से स्थिति मजबूत कर ले। ओल्ड ट्रेफर्ड में गुरुवार को होने वाले मैच में टीम इंडिया का पलड़ा विंडीज पर भारी माना जा रहा है, जो टूर्नामेंट में अब तक केवल एक ही मैच जीत सकी है। विंडीज ने अपने छह मैचों में एक जीता है और चार हारे हैं, जबकि एक में कोई परिणाम नहीं निकला है। टीम सेमीफाइनल की होड़ से लगभग बाहर हो चुकी है, पिछले मैच में उसे न्यूजीलैंड से पांच रनों से करीबी हार झेलनी पड़ी थी, जिसके बाद टीम और भी दबाव में आ गई है।

बारिश नहीं डालेगी खलल

मैनचेस्टर में सोमवार और मंगलवार को बहुत बारिश हुई, लेकिन मौसम विभाग के अनुसार बुधवार और गुरुवार को मौसम साफ रहेगा और बारिश की कोई संभावना नहीं है। वैसे इंग्लैंड में इस मौसम में हल्की बारिश, तो कभी भी हो जाती है, लेकिन इस मैच के बारिश से प्रभावित होने की आशंका नहीं है।

कम नहीं है कैरेबियाई टीम

भारत का पलड़ा भले ही मजबूत हो, लेकिन वेस्टइंडीज के पास अब खोने के लिए कुछ नहीं है और वह टीम इंडिया के समीकरण बिगाड़ उसे मुश्किल में ला सकती है। हालांकि चोट के कारण आंद्रे रसेल टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं, जो उसके लिए झटका है, लेकिन कार्लाेस ब्रेथवेट ने न्यूजीलैंड के खिलाफ अपनी 101 रन की शतकीय पारी से जीत के करीब पहुंचा दिया था। क्रिस गेल, शेमरोन हेटमायर, जेसन होल्डर भी टीम के अन्य अहम बल्लेबाज़ हैं। वहीं, गेंदबाजों में टीम के पास शैनन कोट्रेल, ब्रेथवेट, केमर रोच, होल्डर और ओशन थॉमस जैसे बढि़या खिलाड़ी हैं। शैनन ने पिछले मैच में 56 रन पर सर्वाधिक चार विकेट निकाले थे। हालांकि टीम को अपने प्रदर्शन में निरंतरता की जरूरत है।

सबसे तेज 20 हजारी बनने से 37 कदम दूर

विराट 375 इंटरनेशनल मैचों की 416 पारियों में 19963 रन बना चुके हैं और वह 20 हजार रन के जादुई आंकड़े से मात्र 37 रन दूर हैं। इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेजी से 20 हजार रन बनाने का रिकार्ड संयुक्त रूप से तेंदुलकर और लारा के नाम दर्ज हैं। इन दोनों ने 453-453 पारियों में यह मंजिल हासिल की थी। विराट के पास इन दोनों के रिकार्ड को ध्वस्त करने के लिए 36 पारियां है। विराट यदि यह मुकाम हासिल कर लेंगे, तो वह इंटरनेशनल क्रिकेट में 20 हजार से ज्यादा रन बनाने वाले भारत के तीसरे और दुनिया के 12वें बल्लेबाज बन जाएंगे। उनसे पहले भारत की तरफ से सचिन तेंदुलकर (34357 रन) और राहुल द्रविड़ (24208) यह कमाल कर चुके हैं।

अफगानों के खिलाफ हुई गलतियां, फिर न हों

दो बार की चैंपियन और शानदार फार्म में खेल रही भारतीय टीम ने भी हालांकि पिछले मैच में अफगानिस्तान से करीबी 11 रन से मैच जीता था। ऐसे में उसकी कोशिश रहेगी कि वह इस मैच में की गई गलतियों को सुधारते हुए विंडीज के खिलाफ किसी उलटफेर से बचे। भारतीय टीम के पास एक मजबूत बल्लेबाजी क्रम है, लेकिन अफगानिस्तान के खिलाफ उसके बल्लेबाजों में केवल कप्तान विराट और केदार जाधव ही डटकर रन बना

सके थे।

You might also like