आनी के खिंदरबाई में आठ कमरों का घर जला

आग से घिरी महिला ने बाहर कूद कर बचाई जान, पांच लाख का नुकसान 

आनी – उपमंडल के अंतर्गत  ग्राम पंचायत खड़ी के तहत ग्राम खिंदरबाई  में  आठ कमरों का एक दो मंजिला   अग्निकांड की भेंट चढ़ गया, जिसमे प्रभावित परिवार को करीब पांच लाख रुपए की क्षति पहुंची है। प्रभावित  धर्मदास पुत्र  ध्यान चंद  ने  बताया कि उसके मकान में आठ कमरे सहित एक रसोई घर था, जो कि लकड़ी से बना हुआ कच्चा मकान था। इस मकान में  उसके दो बेटे भगवान दास व राजिंदर कुमार भी रहते थे । मकान में अचानक आगजनी की घटना मे उसके परिवार का सब कुछ तबाह हो गया। घटना की रात घर पर गुड्डी देवी अकेले ही थी, उसका पति अपने इलाज के लिए शिमला गया हुआ था, जबकि उसके दूसरे भाई का परिवार इन दिनों अपने पुश्तैनी घर गागनी खुन्न गया हुआ था । मंगलवार देर रात्रि  गुड्डी देवी जब  सो रही थी,  तो उसे आभास हुआ कि कोई जलती चीज उस पर गिरी, इस पर जब वह अचानक उठी तो देखा कि पूरे मकान में आग लगी थी, उसने तब हिम्मत न हारते हुए बड़ी मुश्किल से बाहर कूद कर अपनी जान बचाई । मकान एकांत में होने के कारण वह किसी को सूचित भी नहीं कर पाई । इससे पहले कि अग्निशमन की टीम और नजदीक गांव कोट के ग्रामीणों को जब इस आगजनी का पता चलाय तो उनके  मौके पर पहुंचने से पहले पूरा मकान जलकर राख हो चुका था । खणी पंचायत के प्रधान अनूप ठाकुर, लझेरी  पंचायत के उपप्रधान बीरबल ठाकुर ने बताया कि आधी रात को घटी इस घटना में पीडि़त परिवार का सब कुछ तबाह हो गया, जिसमें तीन से चार तोले सोना, 200 ग्राम चांदी ,पहनने व सोने के कपड़े, राशन व पांच क्विंटल लहसुन  जो निकालकर घर में सुखाने को रखा था, पूरा सामान स्वाह  हो गया।  आगजनी के कारणों का पता नही चल पाया है।  खबर की सूचना मिलते ही पुलिस दल व आनी प्रशासन की ओर से पटवारी व कानूनगो ने मौके पर पहुंच कर घटना का जायजा लिया व नुकसान की रिपोर्ट तैयार की। प्रशासन  की ओर से तहसीलदार देवेंद्र नेगी ने प्रभावित परिवार को 10 हजार रुपए की फौरी राहत प्रदान की है।

You might also like