आर्मी टीम ने जीती बास्केटबाल ट्रॉफी

टौणीदेवी—पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि बास्केटबाल टौणीदेवी का पुराना खेल है तथा वह खुद भी इसी मैदान में छात्र जीवन के दौरान वालीबाल खेल चुके है, लेकिन उस समय मैदान मिट्टी का था तथा अब पक्का है। वह सोमवार शाम को टौणीदेवी स्कूल में आयोजित हेम राज मेमोरियल बास्केटबाल प्रतियोगिता के समापन पर बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। इससे पहले टौणीदेवी पंहुचने पर पूर्व मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया गया। आयोजन समिति के अध्यक्ष विजय बहल ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इससे पूर्व हुई फाइनल मैच का रोमांच लोगों के सिर चढ़कर बोला। फाइनल में भिडं़त आर्मी ग्रीन व अमृतसर की टीम में हुई, जिसमें कडे़ मुकाबले में आर्मी ने अमृतसर को 74-67 के अंतर से करारी शिकस्त दी। आर्मी ग्रीन के जयवीर को सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया। विजेता टीम को 15 हजार नकद व ट्रॉफी तथा उपविजेता टीम को दस हजार व ट्रॉफी प्रदान की गई। इस दौरान क्षेत्र के पुराने दो दर्जन से अधिक खिलाडि़यों को सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम के दौरान आयोजन समिति के सचिव रविंद्र ठाकुर, कृष्ण चंद, सत्यदेव शर्मा, सुरजीत सिंह, संजय कुमार, बीडीसी सदस्य प्रेम लता, बारीं की प्रधान बबीता चौहान, टपरे की प्रधान रजनीश चौहान, भाजयुमो जिलाध्यक्ष अभयवीर लवली, रवि राणा सहित कई अन्य लोग मौजूद रहे। बताते चलें कि ऐतिहासिक टौणीदेवी मेले का आयोजन सोमवार को किया गया। हल्की बारिश की फुहारों के बीच आयोजित इस मेले में लोगों ने हर्षोल्लास से भाग लिया। टौणीदेवी मेले में इस बार राजस्थान से लाए गए ऊंट की सवारी विशेष आकर्षण रही। ग्राम पंचायत बारीं के उपप्रधान राजीव चौहान और मंदिर कमेटी के प्रधान धर्म सिंह ने बताया कि मंदिर में दर्शनों के लिए भक्तों की भीड़ लगी हुई थी।

You might also like