आसमान से बरसी राहत की फुहारें

धर्मशाला—प्रचंड गर्मी के बीच जिला कांगड़ा के ऊपरी क्षेत्रों में रविवार दोपहर बाद आसमान से राहत की फुहारें बरसी हैं। मौसम ने एकाएक करवट बदली, जिसके बाद जोरदार बारिश का सिलसिला शुरू हो गया। इतना ही नहीं, कई क्षेत्रों में जोरदार ओलावृष्टि भी हुई है। इसके कारण प्रचंड गर्मी से लोगों को हल्की राहत मिल गई है। वहीं, देश-विदेश से पहुंचने वाले पर्यटकों को भी पर्यटन नगरी धर्मशाला व मकलोडगंज का मौसम खूब पंसद आया है। क्षेत्र में एकदम हुई जोरदार बारिश से लोगों के साथ-साथ किसानों में भी काफी खुशी देखने को मिली। अब जमीन की बिजाई का कार्य शुरू होने वाला है, ऐसे में बारिश से किसानों के चेहरों पर भी मुस्कान आ गई है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला से मिली जानकारी के अनुसार रविवार को धर्मशाला का न्यूनतम तापमान 19 डिग्री और अधिकतम 33 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र ने चार से लेकर सात जून तक तूफानी हवाएं चलने के साथ-साथ ही बारिश के भी आसार बताए हैं।  सोमवार को हल्के बादल छाए रहेंगे।

मकलोडगंज में चहके सैलानी

मकलोडगंज में दोपहर के समय हुई बारिश से पर्यटन नगरी को गर्मी से कुछ हद तक निजात मिली हैं। पिछले कुछ समय से धर्मशाला व इससे सटे निकटवर्ती मैदानी क्षेत्रों में तेज धूप की तपिश से लोगों का जीना दुभर हो गया था। वहीं, रविवार को इंद्रदेव की मेहरबानी क्षेत्र में हुई बारिश की ठंडी फुहारों से पर्यटन नगरी के स्थानीय एवं बाहरी पयर्टकों ने राहत भरी सांस ली है।

 खड़ौता के जंगल बचे

रविवार को खड़ौता के हरे-भरे जंगलों में शरारत्ती तत्त्वों ने आग लगा दी, जिसके बाद बहुमूल्य वन संपदा जलकर राख हो गई।  इतना ही नहीं, समस्त वातावरण में धुआं ही धुआं फैल गया,  लेकिन इसी बीच बारिश के देवता इंद्रुनाग का भी करिश्मा देखने को मिला। दोपहर बाद एकदम शुरू हुई तेज़ बारिश ने जंगल की दहकती हुई आग को बुझा दिया।  

भाटी पीर लखदाता मेले का आगाज

राजा का तालाब-उपमंडल फतेहपुर की प्रसिद्ध बाबा भाटी पीर लखदाता राजा का तालाब के वार्षिक छिंज मेले का रविवार को  मेला प्रबंधक कमेटी की देखरेख में टमक की थाप के साथ आगाज हुआ।इससे पहले कमेटी सदस्यों ने बाबा भाटी पीर मंदिर प्रांगण में पूजा-अर्चना करके दंगल मैदान में पहुंचकर झंडा रस्म की प्रक्रिया पूरी कर सोमवार को होने वाले विशाल दंगल की रूपरेखा को अंतिम रूप दिया गया।कमेटी प्रबंधक पुनीत महाजन के मुताबिक इस बार के दंगल में देश-विदेश से आमंत्रित  पहलवानों को लाखों रुपए के इनामों के साथ पुरस्कृत किया जाएगा, जो बीते वर्ष पहलवानों को दिए गए इनामों की तुलना में अधिकतम होगी। वहीं, कमेटी के वरिष्ठ प्रबंधक रामनाथ शर्मा बताया कि मल्ल सम्राट के रूप में धाक जमाने वाले पहलवानों को प्रथम माली के रूप में दो लाख इक्कीस हजार की राशि, जबकि द्वितीय माली में पहलवानों को एक लाख 51 हजार, तृतीय माली में पहलवानों को एक लाख एक हजार की राशि, चतुर्थ माली में पहलवानों को 51 हजार की राशि वितरित की जाएगी, जबकि छिंज में अन्य आमंत्रित पहलवानों को भी आकर्षक नकद इनामों के साथ सम्मानित किया जाएगा, जबकि दंगल में शामिल महिला कुश्ती में भी  पहलवानों को आकर्षकनकद इनाम के साथ सम्मानित किया जाएगा।

You might also like