आस्ट्रेलिया के खिलाफ अफगान लड़ाकों की ‘अग्निपरीक्षा’

‘बॉल टेंपरिंग’ प्रकरण के बाद स्मिथ-वार्नर पर टिकीं सबकी नजरें, मुकाबला शाम छह बजे से

ब्रिस्टल –गत चैंपियन और खिताब की सबसे बड़ी दावेदार आस्ट्रेलिया विश्वकप-2019 में अपने अभियान की शुरुआत शनिवार को मजबूत इरादों वाली अफगानिस्तान के खिलाफ करेगी, जो आईसीसी टूर्नामेंट में अपना पदार्पण कर रही है, लेकिन ‘बिग शो’ के लिए तैयार है। आस्ट्रेलिया की टीम अपने दोनों अभ्यास मैचों में इंग्लैंड को 12 रन से और श्रीलंका को पांच विकेट से हराने के बाद ऊंचे आत्मविश्वास के साथ गैर अनुभवी अफगानिस्तान के खिलाफ जीत के लिए आश्वस्त दिख रही है, लेकिन आईसीसी टूर्नामेंट में पहली बार उतर रही अफगान टीम ने अपने पिछले प्रदर्शन और अभ्यास मैच में 1992 की चैंपियन पाकिस्तान को जिस तरह तीन विकेट से पराजित किया, उसके बाद इसे हल्के में नहीं लिया जा सकता है। ‘बॉल टेंपरिंग’ प्रकरण के बाद खराब छवि और निराशाजनक प्रदर्शन से उबरने के बाद आस्ट्रेलिया ने जबरदस्त वापसी की है और भारत को उसी के मैदान पर वनडे सीरीज़ में 3-2 से हराने तथा यूएई में सीरीज़ जीतने के बाद वह एक बार फिर आईसीसी विश्वकप की प्रबल दावेदार टीम बन गई है। टीम को अपने स्टार खिलाडि़यों स्टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर की वापसी से भी काफी मजबूती मिली है, जो उसके बल्लेबाजी क्रम की अहम कड़ी हैं। आरोन फिंच की कप्तानी वाली आस्ट्रेलियाई टीम में उस्मान ख्वाजा भी शीर्ष क्रम के सबसे प्रभावशाली खिलाड़ी हैं। वहीं गेंदबाज़ों में भी उसके पास मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस, केन रिचर्डसन, एडम जम्पा, नाथन लियोन जैसे जबरदस्त खिलाड़ी हैं। वहीं,  अफगानिस्तान ने अपने पहले ही अभ्यास मैच में पाकिस्तान को तीन विकेट से हराया था और उसका यह प्रदर्शन निश्चित ही चौंकाने वाला रहा था। दौलत जादरान, मोहम्मद नबी, राशिद खान, गुलबदिन नाएब, हामिद हसन के रूप में उसके पास जबरदस्त गेंदबाज मौजूद हैं, जो बड़े बल्लेबाजों को नियंत्रित कर सकते हैं।

You might also like