इंग्लैंड के गेंदबाजों की धुनाई

नॉटिंघम —मोहम्मद हाफिज के शानदार 84 और बाबर आजम (63) व कप्तान सरफराज अहमद (55) के अर्द्धशतकों की मदद से पाकिस्तान ने 12वें विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ 348 का बेहद मजबूत स्कोर खड़ा किया है। इंग्लैंड की ओर से क्रिस वोक्स और मोइन अली ने तीन-तीन विकेट लिए, जबकि मार्क वुड को दो विकेट मिले। पाकिस्तान की ओर से तीन बल्लेबाजों मोहम्मद हाफिज, बाबर आजम और कप्तान सरफराज अहमद ने अर्द्धशतकीय पारी खेली। हाफिर ने जहां सिर्फ 62 गेंदों में 84 रनों (8 चौके, 2 छक्के) की बेहतरीन पारी खेली। उन्हें मार्क वुड ने आउट किया। उनके अलावा बाबर आजम और मोहम्मद हाफिज ने भी शानदार अर्द्धशतक जमाए। बाबर आजम ने 66 गेंदों में 63 रन (4 चौके, 1 छक्का) और सरफराज ने 44 गेंदों में 55 रन (5 चौके) बनाए। ये बाबर का वर्ल्डकप का पहला अर्द्धशतक है। फखर जमान और इमाम उल हक की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 82 रन जोड़कर पाकिस्तान को मजबूत शुरुआत दी। पिछले मैच में पाकिस्तान की बल्लेबाजी फेल रही थी, लिहाज इस बार सलामी बल्लेबाज इमाम और फखर जमान ने बिना कोई जोखिम लिए शुरुआत की। संयमित शुरुआत के बाद दोनों ने तेजी से रन बनाए। मोइन अली ने फखर जमान को आउट कर इंग्लैंड को पहली सफलता दिलाई। मोइन की गेंद को खेलने की कोशिश में फखर चुके और बटलर ने उन्हें स्टंप्स आउट किया। फखर ने 40 गेंदों में 6 चौकों की मदद से 36 रन बनाए। इसके बाद मोइन ने इमाम का विकेट भी लिया। 44 के निजी स्कोर पर खेल रहे इमाम को क्त्रिस वोक्स के हाथों कैच कराया। इमाम ने 58 गेंदों की अपनी पारी में 3 चौके और एक छक्का लगाया। मोइन ने बाबर की बेहतरीन पारी का भी अंत किया। 63 रन बना चुके बाबर को मोइन ने क्रिस वोक्स के हाथों कैच कराया। पाकिस्तान के तीन विकेट गिरे, लेकिन उसके बाद हाफिज और कप्तान सरफराज ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और टीम को 300 के पार पहुंचाया।

पाकिस्तान ने बनाया बिना शतक के वर्ल्डकप का सबसे बड़ा स्कोर

पाकिस्तान ने सोमवार को बिना किसी खलाड़ी के शतक के वर्ल्डकप के सर्वाधिक स्कोर का रेकॉर्ड बनाया। पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने नॉटिंगम की पिच पर काफी अच्छी बल्लेबाज की और इंग्लैंड के गेंदबाजों पर लगातार दबाव बनाए रखा। इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पाकिस्तान को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया। ट्रेंट ब्रिज के मैदान पर मोहम्मद हफीज के 62 गेंदों पर 84 रनों की मदद से आठ विकेट पर 348 का स्कोर बनाया। हफीज के अलावा बाबर आजम (64) और सरफराज अहमद के (55) ने भी हाफ सेंचुरी लगाईं। यह तीसरा मौका था जब पाकिस्तान ने किसी वर्ल्ड कप मैच में बिना शतक लगाए 300 से ज्यादा का स्कोर बनाया। पाकिस्तान ने श्री लंका के खिलाफ 1983 विश्वकप में पांच विकेट पर 338 का स्कोर बनाया था।

You might also like