ईको टूरिज्म से जुड़ेगी पराशर ऋषि की तपोस्थली

कटौला—वन परिवहन युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री गोविंद ठाकुर ने कहा कि पराशर ऋषि की तपोस्थली को ईको टूरिज्म गतिविधियों से जोड़ा जाएगा। इसके लिए वन विभाग 2.19 करोड़ रुपए उपलब्ध करवाएगा। जहां-जहां भी भूमि कटाव की आशंका है। उस क्षेत्र को भी संरक्षित किया जाएगा। इस तपोस्थली को प्रदूषण मुक्त रखने के लिए भविष्य में इलेक्ट्रिक बस सेवा चलाने का प्रयास भी किया जाएगा। गोविंद ठाकुर ने शनिवार को तीन दिवसीय जिला स्तरीय सरनौहली मेले के उपलक्ष्य में पराशर में आयोजित समारोह में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करते हुए यह बात कही। शनिवार को पराशर में सरनौहली मेला धूमधाम के साथ मनाया गया। मेले में तीन दर्जन से अधिक देवी-देवताओं व हजारों लोगों ने शिरकत की। इस अवसर पर गोविंद ठाकुर ने कहा कि मंडी के साथ अन्य जिलों के हजारों लोग पराशर ऋषि का आशीर्वाद लेकर धन्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि पराशर ऋषि की तपोस्थली में पर्यटकों के लिए सभी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए गंभीर प्रयास किए गए हैं। सुविधाओं के विकास के साथ यह तय किया जाएगा कि इस स्थल की पवित्रता से किसी प्रकार की छेड़छाड़ न हो। गोविंद ठाकुर ने कहा कि इस क्षेत्र में विकास के लिए एशियन विकास बैंक के सहयोग से पैसा मुहैया करवाया जा रहा है। यहां पर साहसिक पर्यटन की भी अपार संभावनाएं हैं। अटल बिहारी पर्वतारोहण संस्थान मनाली के निदेशक को इस क्षेत्र में पैरागलाइडिंग व स्कीईंग जैसी साहसिक पर्यटन गतिविधियों की संभावनाएं तलाशने के लिए कहा गया है। पर्यटन बढ़ने से स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे। इस अवसर पर वन मंत्री की धर्मपत्नी रजनी ठाकुर, जिला परिषद उपाध्यक्ष पूर्णचंद ठाकुर, ग्राम पंचायत सेगली के प्रधान हरि सिंह, देव कमेटी के प्रधान बलबीर ठाकुर, अरण्यपाल उपासना पटियाल, जिला पर्यटन अधिकारी पंकज शर्मा, वनमंडल अधिकारी एसएस कश्यप,  पुलिस उप अधीक्षक मदन कांत शर्मा, क्षेत्रीय प्रबंधक एचआरटीसी गोपाल शर्मा और जिला भाषा अधिकारी रेवती सैणी सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

पराशर झील के लिए अब शाम में भी चलेगी बस

गोविंद ठाकुर ने मंडी से पराशर झील के लिए सुबह के अतिरिक्त शाम के समय भी बस सेवा चलाने की घोषणा की। इसके अतिरिक्त यहां के लिए कुल्लू-भूंतर से भी बस चलाने का आश्वासन दिया। उन्होंने मेले के सफ ल आयोजन के लिए मेला कमेटी को 50 हजार रुपए देने की घोषणा की। इस पहले वन मंत्री ने धर्मपत्नी रजनी ठाकुर के साथ पराशर मंदिर में पूजा-अर्चना की। उन्होंने इस मौके विभागीय प्रदर्शनियों का अवलोकन भी दिया।

द्रंग को मिलीं 256 करोड़ की योजनाएं

इस अवसर पर स्थानीय विधायक जवाहर ठाकुर ने कहा कि द्रंग विधान सभा क्षेत्र में डेढ़ साल में 256 करोड़ रुपए की योजनाएं केंद्र सरकार से स्वीकृत करवाई गई हैं। पेयजल योजनाओं के लिए 107 करोड़ रुपए स्वीकृत करवाए हैं। पराशर क्षेत्र में बिजली व पानी की समुचित व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत सेगली में 26 लाख रुपए की विकास परियोजनाएं स्वीकृत की गई हैं।

You might also like