ईद आई…प्यार का पैगाम लाई

सोलन में धूमधाम से मनाया ईद उल फितर का त्योहार, लोगों ने नमाज अता कर एक-दूसरे को गले लगाकर दी मुबारक

सोलन -ईद-उल-फितर का त्योहार सोलन में बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया गया। इस दौरान पुराना बस स्टैंड स्थित जामा मस्जिद में सैकड़ों की तादाद में पहुंचे मुस्लिम भाईयों ने नमाज अता की और देश सहित पूरे विश्व के लिए अमन व शांति की दुआ मांगी। इसके बाद उन्होंने एक दूसरे गले लगाकर ईद की मुबारकबाद दी। वहीं, हिंदू समुदाय के लोगों ने भी मुस्लिम भाईयों से गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी। इस अवसर पर बच्चे बड़े ही खुश दिख रहे थे और उन्होंने नमाज के बाद ईदी भी इकट्ठा की और सेवााईयां खाई। जामा मस्जिद सोलन में सुबह से नमाज अदा करने के लिए मुस्लिम समुदाय के लोगों का पहुंचना शुरु हो गया था। इस दौरान जामा मस्जिद के इमाम मौलाना मोहम्मद युनूस ने ईद की नमाज अदा कराई और आपसी भाईचारे, एकता व अमन का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि हम सभी को मिलजुल कर रहना चाहिए और अपने वतन की तरक्की में अपना सहयोग देना चाहिए। उन्होंने कहा कि ईद उल फितर का दिन पूरी दुनिया के लिए इनसानियत का पैगाम देता है। ईद दिलों को जोड़ती है। ईद प्यार और भाईचारे का संदेश देती है। मौलाना ने कहा कि पूरी दुनिया के मुस्लमान रमजान मुबारक के एक महीने के रोजे रख खुदा का शुक्र अदा करते हैं।  उधर, सोलन जिला के विभिन्न क्षेत्रों कंडाघाट, परवाणू, धर्मपुर, कसौली, सुबाथू, कुनिहार व अकीज़् में भी ईद का त्योहार मनाया गया। इस दौरान सभी ने एकदूसरे को गले लगाकर ईद की मुबारकबाद दी।

You might also like