उरनी में मुक्कों की बारिश…दीपिका को गोल्ड

जेएसडब्ल्यू के कड़छम-वांगतू परियोजना प्रमुख प्रवीण पुरी ने की शिरकत

रिकांगपिओ –किन्नौर के उरनी में आयोजित तीन दिवसीय राज्यस्तरीय बॉक्सिंग चैंपियनशिप का समापन जेएसडब्ल्यू के करछम-वांगतू परियोजना प्रमुख प्रवीण पूरी ने की। इस अवसर पर मुख्यातिथि ने कहा कि जेएसडब्ल्यू का इस क्षेत्र में बॉक्सिंग को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास जारी है। ताकि इस क्षेत्र से मेरीकॉम जैसे खिलाड़ी तैयार हो। जेएसडब्ल्यू के सौजन्य से जिला किन्नौर बॉक्सिंग एसोसिएशन किन्नौर द्वारा उरनी में तीन दिवसीय राज्यस्तरीय  बॉक्सिंग चैंपियनशिप के आयोजन पर प्रदेश बॉक्सिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेंद्र शांडिल व जिला बॉक्सिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष गोपी चंद नेगी ने जेएसडब्ल्यू का आभार जताया। इस अवसर पर जिला बॉक्सिंग एसोसिएशन महासचिव व कोच अशोक नेगी, प्रिंसिपल सीसे उरनी, प्रिसिपल आईटीआई उरनी उपस्थित थे। इस तीन दिवसीय बॉक्सिंग प्रतियोगिता में महिला वर्ग के 60 किलोग्राम वर्ग में किन्नौर के सांगला की दीपिका ने गोल्ड मेडल, दीक्षा हमीरपुर ने सिल्वर मेडल प्राप्त किया। 48 किलो वर्ग में कुसुम मंडी गोल्ड व किन्नौर की उरनी की सुनिधि ने सिल्वर मेडल जीती। जबकि सांगला की सुजाता ने कांस्य पदक जीती। महिला 51 किलो वर्ग में अर्चिता चंबा ने गोल्ड मेडल, शिवानी मंडी ने सिल्वर मेडल जीती। 57 किलो वर्ग में मंजूमंजू मंडी ने गोल्ड व किरण मंडी ने सिल्वर मेडल जीती। 64 किलो वर्ग में शिवानी शिमला ने गोल्ड व प्रियंका किन्नौर ने सिल्वर मेडल प्राप्त किया। 69 किलो वर्ग में मेनिका शिमला गोल्ड व आरती कांगड़ा ने सिल्वर मेडल लिया।  लड़कों के वर्ग में 49 किलो भार में बिलासपुर के वीरेंद्र ने गोल्ड मेडल, शिमला के निशांत ने सिल्वर व शिमला के श्याम व किन्नौर के अविश ने कांस्य पदक जीता।  52 किलो वर्ग में सुमित कांगड़ा गोल्डएशिवांग शिमला सिल्वर व सुनील बिलासपुर ब्राऊंस मेडल प्राप्त किया। 60 किलो वर्ग में निखल बिलासपुर गोल्ड, देविंदर किन्नौर सिल्वर व आदित्य हमीरपुर ने कांस्य मेडल जीता। 64 किलो वर्ग में ऋषव बिलासपुर ने गोल्ड मेडल, 69 किलो वर्ग में सुशांत शिमलाव 81 किलो में विक्रांत ऊना ने गोल्ड मेड़ल जीता।  कार्यक्रम के अंत मे जिला बॉक्सिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष गोपी चंद नेगी ने तीन दिवसीय बॉक्सिंग चेंपियनशिप के सफल आयोजन के लिए जेएसडब्ल्यू, स्थानीय उरनी स्कूल, आईटीआई प्रबंधन व स्थानीय ग्रामीणों का आभार जताया। मुख्यातिथि ने सभी विजेताओं को मेडल दे कर सम्मानित किया।

You might also like