‘उसकी पीड़ा, गांव की माटी’ का लोकार्पण

शिमला में लेखकर शंकर लाल की दो किताबों का विमोचन

शिमला – हिमालय साहित्य संस्कृति एवं पर्यावरण मंच द्वारा बुधवार को वरिष्ठ कवि-कथाकार शंकरलाल शर्मा की दो पुस्तकों का लोकार्पण शिमला रोटरी टाउन हाल में हुआ। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता सुपरिचित आलोचक अभिताभ राय ने की। उन्होंने दोनों पुस्तकों के लेखक व इस उम्र में निरंतर सृजन के लिए शंकरलाल शर्मा को बधाई दी। लोकार्पित पुस्तकों में  कहानी संग्रह ‘उसकी पीड़ा’ पर डा. हेम राज कौशिक ने और कविता पुस्तक ‘गांव की माटी’ पर आत्मा रंजन व कुल राजीव पंत ने सारगर्भित टिप्पणियां प्रस्तुत कीं। इस अवसर हिमालय मंच ने लेखक को उनके साहित्य योगदान हेतु सम्मानित भी किया। मंच के अध्यक्ष एसआर हरनोट ने पर्यावरण दिवस के अवसर पर जल, जंगल व जमीन के संरक्षण में सब को अपना योगदान देने की बात कही। इस अवसर पर वरिष्ठ लेखक श्रीनिवास जोशी कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। कवियों में जगत प्रसाद शास्त्री, बद्री सिंह भाटिया, आत्मा रंजन, आरडी शर्मा, मस्तराम शर्मा, सतीश रतन, गुप्तेश्वर नाथ उपाध्याय, ध्यान सिंह भागटा, अनुराग विजय वर्गीय, सीमा विजय, देव कन्या ठाकुर, भारती कुठियाला, मोनिका छट्टू, शांति स्वरूप शर्मा आदि शामिल रहे।

 

You might also like