ऊना में पानी की किल्लत, लोगों पर भारी

ऊना—भीष्ण गर्मी ने जहां लोगों का जीना मुहाल कर रखा है, वहीं ऊना शहर के विभिन्न वार्डों में पेयजल आपूर्ति सुचारू न होने से लोगों को पेजयल के लिए जूझना पड़ रहा है। शहर के वार्ड एक, नौ व दस में पिछले काफी समय से पेयजल संकट गहराया हुआ है। पानी की आपूर्ति कम होने से लोगों के नलों में पानी नहीं आ रहा है। इसके चलते लोगों को दूरदराज स्थित नलों पर जाकर पानी ढोना पड़ रहा है। वार्डवासियों का कहना है कि समस्या को लेकर कई मर्तबा आईपीएच विभाग के उच्चाधिकारियों के समक्ष गुहार लगाई गई है, लेकिन हर बार उन्हें आश्वासन ही मिला है। लोगों का जहां तक कहना है कि कई स्थानों पर लोग टुल्लू पंप लगाकर पानी का दुरुप्रयोग कर रहे है, लेकिन विभाग के कर्मचारियों द्वारा ऐसे लोगों पर कोई शिकंजा नहीं कसा जा रहा है। टुल्लू पंप लगने से भी पेयजल सप्लाई बाधित हो रही है। इसके चलते पेयजल प्रेशर कम होने से छतों पर रखी पानी की टंकियां तक नहीं भर पा रही है। ऐसे में लोगों को भारी परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। वार्ड-दस के निवासियों अमित कुमार, आकाश कुमार, विजय कुमार, लाडी सिंह, सुरेंद्र कुमार, कुश कुमार, रशपाल सिंह, सुनीता देवी, वीना देवी, प्रवीण कुमारी सहित अन्य ने बताया कि पिछले एक महीने से ज्यादा समय से उन्हें पेयजल आपूर्ति सुचारू नहीं मिल पा रही है। उनके नलों में पिछले एक महीने से एक बूंद पानी तक नहीं टपकी है। ऐसे में उन्हें दूर-दराज स्थित पब्लिक प्वाइंट पर जाकर पानी ढोना पड़ रहा है। जहां पर भी उनकी मुश्किलें कम नहीं होती है। क्योंकि पब्लिक प्वाइंट पर भी पानी भरने के लिए लोगों की काफी भीड़ जमा होती है। जहां पर भी पानी का प्रेशर कम होने पर कई बार उन्हें खाली बरतन लेकर घरों को लौटना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने कहा कि उन्होंने अपनी समस्या को लेकर कई बार आईपीएच विभाग के समक्ष गुहार लगाई है, लेकिन विभागीय अधिकारियों के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही है। हर बार उन्हें पेयजल आपूर्ति शीघ्र सुचारू करने का आश्वासन दिया जाता है, लेकिन उन्हें पानी नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने विभाग को चेताते हुए कहा कि अगर एक सप्ताह के भीतर पेयजल आपूर्ति सुचारू नहीं की गई तो विभाग के कार्यालय के बाहर मटके फोड़ प्रदर्शन किया जाएगा। वहीं, आईपीएच विभाग ऊना के एक्सईएन नरेश धीमान ने कहा कि  तकनीकी खराबी के चलते समस्या पेश आई थी। वहीं, दो दिन से बिजली आपूर्ति बाधित होने से प्रॉपर पंपिंग नहीं हुई है। इसके चलते समस्या पेश आ रही है। जल्द ही लोगों को पेयजल आपूर्ति सुचारू दी जाएगी।

You might also like