एटीएम लूट मामले में पुलिस के हाथ खाली

बीबीएन -न्यू नालागढ़ में यूकों बैंक का एटीएम उखाड़ कर फरार नकाबपोश बदमाश अभी तक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सके है। मामले की जांच में जुटी पुलिस बदमाशों का सुराग लगाने के लिए लगातार सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है , लेकिन अभी तक कोई अहम जानकारी हाथ नही लग पाई है। यानि घटना के चार दिन बाद ाी पुलिस के हाथ खाली ही है। हालांकि पुलिस का अंदेशा है कि इस वारदात को उसी गैंग ने अंजाम दिया है जिसने परवाणू व रोपड़ में एटीएम उखाड़े थे, इसी कड़ी में इस केस को सुलझाने के लिए पजांब व हरियाणा राज्य की पुलिस की भी मदद ली जा रही है। इसके अलावा पुलिस घटना स्थल के आसपास के मोबाईल टावरों से डंप डाटा ाी जुटा रही है।  बतातें चलें कि करीब आठ लाख की नकदी से भरी एटीएम मशीन को शनिवार देर रात करीब सवा एक बजे नकाबपोश बदमाश उखाड़ कर खुली गाड़ी में ले गए थे। यह सारा वाक्या बीते शनिवार की रात पुलिस स्टेशन से महज 300 मीटर की दूरी पर घटा। लेकिन यूकों बैंक और पुलिस को इसकी भनक दो दिन बाद सोमवार सुबह लगी। बताया जा रहा है कि बदमाशांें ने पहले एटीएम को तोड़कर नकदी उड़ाने का प्रयास किया लेकिन इसमें नाकाम रहने पर वे एटीएम मशीन को उखाड़कर साथ ले गए। एटीएम लूट की इस वारदात ने जहां औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन में पुलिस की चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था के तमाम दावों की पोल खोल दी है, साथ ही बैंक प्रबंधन की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए है। फिलवक्त लूट की इस वारदात से क्षेत्र में दहशत का माहौल है, पुलिस  बदमाशों तक पहंुचने के लिए सीसीटीवी कमैरों को खंगाल रही है। अभी तक की पुलिस पड़ताल में सामने आया है कि खुली गाड़ी में सवार हो कर आए बदमाशों में से पहले एक बदमाश एटीएम के केबिन में दाखिल हुआ, जिसने सीसीटीवी की तारें काटी और उसके बाद बदमाश एटीएम को उखाड़ ले गए। पुलिस क ो सीसीटीवी कै मरें की फुटेज में नकाबपोश बदमाश दिखें है और रास्ते में भी कई सीसीटीवी कैमरों में एटीएम ले जाते हुए एक गाड़ी भी नजर आई है। बहरहाल पुलिस सारी कडि़यों को जोड़कर बदमाशों तक पहुंचने की कोशिश में जुटी है लेकिन फिलवक्त पुलिस के हाथ खाली है। डीएसपी नालागढ़ चमन लाल ने बताया कि पुलिस इस मामले की गहनता से जांच कर रही है लेकिन आी तक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। उन्होंने बताया कि पुलिस टीमें संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है। इसके अलावा शक के आधार पर भी कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है।

You might also like