एम्स में डाक्टर की पढ़ाई करेंगी पलक

शिमला—कुछ कर गुजरने का जनून हो, तो कोई भी ताकत हमें कुछ भी करने से नहीं रोक सकती। ऐसा ही कुछ राजधानी शिमला की पलक ठाकुर ने कर दिखाया है। 18 साल की उम्र में ही दिल्ली के एम्स में अब पलक डाक्टर की ट्रेनिंग करेंगी। 18 साल की पलक का पहले एंट्रांस में ही दिल्ली के इतने बड़े स्वास्थ्य संस्थान में चयन हुआ है। अहम यह है कि पलक ठाकुर ने एम्स की परीक्षा में देशभर में 2013वां रैंक हासिल किया है। 99.4 प्रतिशत अंक हासिल करने वाली पलक ठाकुर ने इसका श्रेय अपने परिवार और शिमला के कोचिंग सेंटर एस्पायर को दिया है। अठारह साल की उम्र में ही स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार करने वाली पलक चाहती हंै कि उन्हें डाक्टर के साथ-साथ एक प्रशासनिक अधिकारी का भी पद मिले, ताकि वह स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार के लिए बड़े-बड़े फैसले ले सकें। उनका मानना है कि हिमाचल में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं न होने की वजह से हर साल सैकड़ांे कैंसर मरीजों की मौते होती हैं। पलक ने कहा कि उन्हें अपने गांव सरकाघाट के सजौड़ी गांव में स्वास्थ्य की दयनीय स्थिति को देखकर ज्यादा दुख होता था। वहां से भी उन्हें डाक्टर बनने की मोटीवेशन मिली और पहली बार उनकी फेमिली में किसी ने मेडिकल प्रोफेशन में जाने का फैसला लिया। जानकारी के अनुसार अभी तक फिलहाल पलक का ही नाम पूरे हिमाचल में एम्स के लिए आ रहा है। पलक की इस कामयाबी के लिए उनके परिवार और एस्पायर संस्थान के लोगों ने भी खुशी जाहिर की है। ‘दिव्य हिमाचल’ से खास बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि  वह शाम को दस बजे से लेकर दो बजे तक पढ़ाई करती है। इसके अलावा एक से दो घंटे संस्थान में ट्यूशन लेने के बाद स्कूल में भी पढ़ाई करती थी। उनका कहना है कि जमा एक से ही उन्होंने नीट और एम्स के एट्रांस को लेकर तैयारियां शुरू कर दी थीं।

बेटियां अपने आप को न समझें कम

अठारह साल की पलक का बेटियों को संदेश है कि वे अपने आप को कमजोर न समझें। वहीं जो सपना उन्होंने देखा है, उस सपने को पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास करें।

ऑनलाइन स्टडी से दूर

शिमला की पलक ठाकुर ऑनलाइन स्टडी से बहुत दूर है। ताजुब की बात  है कि पलक ठाकुर तकनीकी के इस दौर में मोबाइल का इस्तेमाल ही नहीं करती। उनका कहना है कि ऑनलाइन स्टडी में इतने फिगर नहीं मिल पाते, लेकिन किताबों की जो पढ़ाई है, वो बहुत ही मटीरियल बेस्ड और तथ्यों पर आधारित है। उनका कहना है कि वह फेसबुक, व्हाट्सऐप, इंस्ट्राग्राम जैसी चीजों को अभी तक नहीं चलाती है।

You might also like