ऑनलाइन खरीददारी करेंगे पांच विभाग

फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम प्रोजेक्ट की जांच को पहुंची वर्ल्ड बैंक की टीम

 शिमला  —वर्ल्ड बैंक ने सरकार के पांच विभागों को दिए फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम प्रोजेक्ट की पड़़ताल की। वर्ल्ड बैंक की टीम यहां आई हुई है, जिसने यहां विभागों से इस प्रोजेक्ट पर अब तक हुए कार्य की जानकारी ली। बता दें कि प्रदेश के पांच बड़े विभाग भविष्य में ऑनलाइन खरीद करेंगे और इन्हें इस प्रणाली के लिए वर्ल्ड बैंक ने पैसा दिया है। जिन विभागों में ऑनलाइन खरीद होनी है, उनमें स्टेट ट्रेजरी, लोक निर्माण विभाग, आईपीएच, आबकारी एवं कराधान तथा सूचना प्रौद्योगिकी विभाग शामिल हैं। इन विभागों में ऑनलाइन टेंडर की प्रक्रिया पहले से चल रही है, जिसके बाद अब खरीद की प्रक्रिया भी पूरी तरह ऑनलाइन होगी। यही नहीं, खरीद के मामले में केंद्र सरकार ने एक वेब पोर्टल भी शुरू किया है, जिसके साथ भी यह सरकारी महकमे जुड़ेंगे। पब्लिक फाइनेंशियल मैनेजमेंट प्रोजेक्ट के तहत इस कार्य को शुरू किया जा रहा है। विश्व बैंक इस प्रोजेक्ट के लिए फंडिंग कर रहा है। पहले चरण में इसकी शुरुआत पांच विभागों से की जा रही है। उसके बाद इसे अन्य विभागों में भी शुरू किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट का सबसे ज्यादा फायदा ट्रेजरी के ऑनलाइन होने से होगा। ट्रेजरी का कामकाज पूरी तरह ऑनलाइन हो जाने से जरूरी दस्तावेज तक देने के लिए दफ्तर नहीं आना पड़ेगा। ट्रेजरी का अब तक काफी ज्यादा काम मैनुअली होता है, उसे पूरी तरह कम्प्यूटरीकृत कर पुरानी व्यवस्था में सुधार की कवायद चल रही है, जिसका फायदा कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को भी मिलेगा। अभी उन्हें ट्रेजरी के चक्कर काटने पड़ते हैं। शिमला आई विश्व बैंक की टीम ने यहां संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बातचीत की है। उन्होंने उनसे रिकॉर्ड लिया है।

तैयार हो रही रिपोर्ट

विश्व बैंक की शर्तों के अनुरूप प्रोजेक्ट में कार्य हो रहा है या नहीं, इसकी पूरी रिपोर्ट तैयार की जा रही है, जिसके बाद प्रोजेक्ट पर आगे काम होगा। प्रोजेक्ट लागू करने से कामकाज में भी पारदर्शिता आएगी, वहीं देरी से होने वाले काम भी जल्द निपटेंगे। साथ ही विभागों की खरीद प्रणाली में भी पारदर्शिता रहेगी। सचिव वित्त अक्षय सूद का कहना है कि जल्द तेजी के साथ प्रोजेक्ट को इम्प्लीमेंट करने का काम चल रहा है।

 

You might also like