कड़वा तेल सस्ता, रिफाइंड महंगा

राशनकार्ड धारकों को झटका, तीन रुपए की कटौती के साथ दो रुपए की बढ़ोतरी

हमीरपुर  – सस्ते राशन की दुकानों से एक दाल गायब हो गई है, जबकि रिफाइंड में दो रुपए की बढ़ोतरी और तेल में तीन रुपए की कटौती की गई है। राशनकार्ड धारकों को चावल व आटे में आधा किलो राशन बढ़ाया गया है। जो राशनकार्ड धारक तेल कोटे से वंचित रह गए थे, उन्हें इस माह डबल कोटा दिया जाएगा।  बता दें कि जून माह में राशनकार्ड धारकों को दाल चना व मूंग दालें ही मिल पाई हैं। डिपुओं से मल्का मसर व माह की दालें गायब हैं। राशनकार्ड धारक चार दालों से अपनी पंसद की तीन दालें खरीद सकते हैं, लेकिन इस बार उन्हें दो दालों से ही संतुष्ट होना पड़ा। डिपुओं में रिफाइंड दो रुपए महंगा और तेल तीन रुपए सस्ता हो गया है। राशनकार्ड धारकों को रिफाइंड व तेल 72-72 रुपए में बेचा जा रहा है। हालांकि मई माह में रिफाइंड तेल 70 रुपए और सरसों तेल 75 रुपए में बांटा गया था। हालांकि आटे व चावल के कोटे में आधा किलो की बढ़ोतरी की गई है। राशनकार्ड धारकों को चावल छह किलो और आटा 13 किलो के हिसाब से मिल रहा है। पिछले चार-पांच माह से राशनकार्ड धारकों को चावल साढ़े पांच किलो और आटा साढ़े 12 किलो प्रतिकार्ड दिया जा रहा था। हमीरपुर के खाद्य आपूर्ति नियंत्रक शिवराम राही ने बताया कि गोदामों में तीनों दालें पहुंच गई हैं। अगर किसी डिपो में एक दाल नहीं पहुंच पाई है, तो उसे भी डिपुओं में पहुंचाया जाएगा।  तेल के समान रेट किए गए हैं। 

बायोमीट्रिक सिस्टम का सिग्नल गुल

जिला हमीरपुर में सोमवार शाम से लेकर मंगलवार दोपहर तक बायोमीट्रिक सिस्टम का सिग्नल गुल रहा। राशनकार्ड धारकों को ऐसे में खासा परेशान होना पड़ा। राशनकार्ड धारक चाहकर भी राशन नहीं खरीद पाए, क्योंकि बायोमीट्रिक मशीन किसी भी राशनकार्ड धारक का फिंगर प्रिंट नहीं उठा रही थी। ऐसे में राशनकार्ड धारकों को दोपहर बाद ही राशन मिल पाया।

 

You might also like