करगाणु में गिरि पुल के पास डूब रहे सैलानी, प्रशासन बेखबर

राजगढ़      —करगानु में गिरि नदी पुल के पास नदी में सैलानियों के डूबने से मौत होने की लगातार हो रही घटनाओं पर प्रशासन और सरकार का कोई ध्यान नहीं है। हालत यह है कि हाल ही में तीन युवाओं की डूबने से मौत हो गई है। जबकि आधा दर्जन के करीब लोग लोगों द्वारा बचा लिए गए और उन्हें अस्पतालों में कई दिन जिंदगी और मौत से जूझना पड़ रहा है। वावजूद प्रशासन मूक दर्शक बना हुआ है, जो बड़ी हैरानी का विषय है। लेकिन इन घटनाओं को रोकने की ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। दिनेश आर्य महासचिव पच्छाद कांग्रेस एवं पूर्व अध्यक्ष नगर पंचायत राजगढ़ ने बताया की  कई साल पहले जिला सिरमौर प्रशासन ने उपमंडल राजगढ़ के इस क्षेत्र में नहाने पर प्रतिबंध लगाया था। धारा 144 लगा कर कुछ वर्ष इन घटनाएं को रोका भी गया। बता दे कि गर्मियों के चलते भारी संख्या में छात्र और सैलानी गिरी नदी में नहाने आते है। लेकिन इन्हें न तो कोई ऐसे क्षेत्र में जाने से रोकता है और न ही किसी प्रकार की चेतावनी संबंधित  बोर्ड आदि कही लगाए गए है। परिणाम स्वरूप कई घरों के चिराग इस नदी ने बुझा डाले है । हम सरकार से अनुरोध करते हैं कि वह जिला सिरमौर और सोलन प्रशासन को इस दिशा में तुंरत प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दे। वहीं, रविवार को एक इंजीनियर की करगाणु की गिरि नदी में डूबने से मौत हो गई। दो सप्ताह पूर्व सोलन के एक छात्र की भी मौत हुई है ,जबकि चार छात्रों को बड़ी मुश्किल से बचाया जा सका।

You might also like