काले बिल्ले लगा एक घंटा ओपीडी बंद

बरोटीवाला—डाक्टरों पर अकारण हो रहे हमलों के विरोध में सोमवार को प्रदेश के सबसे बडे़ औद्योगिक क्षेत्र बद्दी के काठा में स्थापित ईएसआई अस्पताल में भी चिकित्सकों ने कामकाज आंशिक रूप से बंद रखा। काठा अस्पताल के समस्त डाक्टरों ने काले बिल्ले लगाकर लगभग एक घंटे तक ओपीडी बंद रखी और यही समय मजदूरों के आने का होता है। इसके बाद समस्त चिकित्सकों ने एक रैली निकाल कर प्रदर्शन किया और रोष स्वरूप नारेबाजी की।  एक समय तो ओपीडी पर लोगों की लंबी लंबी कतारें लग गई लेकिन उनकी सुनवाई करने वाला कोई नहीं था लेकिन कुछ समय बाद डाक्टर कामकाज पर लौटे तो श्रमिकों को राहत मिली। डा. सयंम, डा. गगन, डा. रोहित व डा. पुनीत ने बताया कि आईएमए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के राष्ट्रव्यापी आह्वान पर आज हमने लगभग एक घंटे तक कामकाज बंद रखा। उन्हांेने बताया कि हमारी प्रमुख मांगों में अगर डाक्टरों पर कोई हमला करता है तो उसकी तुरंत गिरफ्तारी होनी चाहिए और यह गैर जमानती अपराध बने। उन्हांेने कहा कि आए दिन हर शहर में सरकारी व निजी दोनांे चिकित्सक गुंडा तत्त्वों के शिकार होते हैं इसलिए इस पर सरकार विशेष कानून बनाए।  काठा के डाक्टरों ने कहा कि गत दिनों बद्दी में कुछ लोगों ने अस्पताल में भारी तोड़फोड़ की थी उसका भी आज प्रदर्शन किया गया। वहीं निजी अस्पताल एसोसिएशन बीबीएन के प्रधान डा. सीएल भारद्वाज, डा. गगन जैन व लघु उद्योग भारती के हैल्थ विंग के चेयरमैन डा. मुकेश मल्होत्रा ने कहा कि सोमवार को बीबीएन के समस्त निजी अस्पतालों में ओपीडी ठप रही वहीं आपातकाल सेवाएं चलती रही।

You might also like