कुकैन-झैर-गोभरता जंगल में आग

रिवालसर—मंडी रेंज के अंतर्गत रिवालसर के साथ लगते कुकैन, झैर और बलद्वाड़ा रेंज के तहत गोभरता जंगल में दो दिनों से भयंकर आग भड़की हुई है। इन जंगलों की सीमाएं आपस में जुड़ी होने के कारण तीनों जंगल आग की चपेट में आ गए हंै। बेकाबू हुई इस आग से सैकड़ों बीघा क्षेत्र में फैली वन संपदा धू-धू कर जल रही है।   आग पर काबू पाने के लिए जंगल में वन कर्मियों में केशव राम ठाकुर डिप्टी रेंजर, लाल सिंह वनरक्षक रिवालसर बीट, हुकम चंद वन कर्मी, नरपत राम, तारा चंद फायर वाचर व स्थानीय जनता के जागरूक लोग भी डटे हुए हैं, मगर अब तक आग पर पूरी तरह से काबू नहीं पाया जा सका है। जानकारी के अनुसार बेकाबू एवं प्रलंकयारी आग से जहां जंगल में चीड़ के पेड़ व अन्य पेड़ पौधे धूं-धूं कर जल  रहे है। वहीं, दूसरी ओर जंगल में वन्य प्राणी भी इस आग की चपेट में आने से जिंदा जल गए हैं। भीषण आग से जंगल के आसपास रिहायसी मकानों को भी खतरा हो गया है। डिप्टी रेंजर रिवालसर केशव राम ने बताया कि जंगल में किसी अज्ञात व्यक्ति ने आग लगा दी है। जो कि पूरे जंगल  क्षेत्र में फैल गई है।उन्होंने बताया कि अभी तक कुकैन जंगल की आग पर काबू पा लिया गया है। बाकी जगह आग पर काबू पाने को लेकर पुरजोर प्रयास जारी है।

You might also like