कुल्लू अस्पताल की थाइराइड टेस्ट मशीन ठीक

कुल्लू—क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू में थाइराइड मशीन को ठीक कर दिया गया है। काफी लंबे समय बाद गर्भवती महिलाओं को सरकार की निःशुल्क स्वास्थ्य सेवा का लाभ मिल रहा है। इससे पहले गर्भवती महिलाओं को निजी लैब में जाकर थाइराइड के टेस्ट करवाने पड़ रहे थे। बीते कुछ दिनों पहले ‘दिव्य हिमाचल’ ने इस मुद्दे को गंभीरता से उठाया था और स्वास्थ्य विभाग ने उसके बाद हरकत में आते हुए थाइराइड मशीने को दुरुस्त करवा दिया है। गर्भवती महिलाएं परेशान थीं। महिलाओं को सरकारी सुविधाएं होने के बावजूद पैसे खर्च करने पड़ रहे थे। अकसर महिलाओं को अस्पताल में टोकन लेने के लिए पहले लंबी लाइन में खड़े होना पड़ रहा है, जब टोकन लेने के नंबर लग जाता है तो, वहां पहुंचकर यह सूचना मिलती है कि थायराइड मशीन खराब है टेस्ट नहीं होंगे। ऐसे में या तो महिलाएं बैरंग घर लौट रही थीं या तो उन्हें निजी लैब में जाकर 150 से लेकर 300 रुपए खर्च कर टेस्ट करवाना पड़ रहा था।  लिहाजा, कुल्लू अस्पताल में अब मशीन ठीक होने से सुविधा मिल पा रही है। शुक्रवार को अस्पताल पहुंची सरिता का कहना है कि उनका थाइराइड का टेस्ट हुआ है। वहीं, अन्य महिलाओं का कहना है कि वे कई बार इस टेस्ट को करवाने के लिए अस्पताल आती थीं, लेकिन यहां पर मशीन ठीक नहीं होने से बैरंग घर लौट जाती थीं।  उधर, डा. भारत भूषण, एमएस क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू का कहना है कि थाइराइड मशीन में कुछ खराबी आई थी, उसे ठीक कर दिया गया है। अस्पताल में थाइराइड के टेस्ट हो रहे हैं।

You might also like