केंद्रीय मंत्रियों को भेजेंगे ज्ञापन

महासंघ ने शिक्षकों की दिक्कतें निपटाने के लिए लिया फैसला

पांवटा साहिब –  अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के हिमाचल प्रांत उपाध्यक्ष विजय कंवर ने कहा है कि जल्द ही शिक्षकों की समस्याओं से संबंधित मांगपत्र प्रदेश के शिक्षा मंत्री और केंद्र के मंत्रियों को भेजे जाएंगे। उन्होंने कहा कि संपूर्ण भारत वर्ष के सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के शिक्षक बंधुओं की समस्याओं तथा शिक्षा जगत व वेतन विसंगतियों से जुड़ी सभी मांगों को सम्मिलित रूप से हर जिला स्तर से जिलाधीश के माध्यम से राज्य के शिक्षा मंत्री, मुख्यमंत्री तथा भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्री व प्रधानमंत्री को 15 जुलाई को एक साथ भिजवाया जाएगा। 19 अगस्त को प्राथमिक संवर्ग का मांग प्रतिवेदन अलग से प्रेषित किया जाएगा। इन मांगों में से कुछ प्रमुख मांगे हैं, जिनमें पूरे देश में पुरानी पेंशन योजना की बहाली, हर राज्य में शिक्षा विभाग के कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति आयु 65 वर्ष कर दिया जाए, छठे वेतन आयोग व सातवें वेतन आयोग की वेतन विसंगतियों को दूर कर पूरे देश में लागू किया जाए, एक समान कार्य के लिए एक समान वेतन का नियम लागू करना, पूरे देश में एक समान भर्ती व पदोन्नति नियम निर्धारित करना, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की तर्ज पर राष्ट्रीय शिक्षा आयोग का गठन किया जाए, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की तर्ज पर मूल्यांकन भत्तों को हर राज्य में दिया जाए, शिक्षा विभाग के कर्मचारियों को चिकित्सा एवं अर्जित अवकाश दोनों देय हों, शिशु देखभाल अवकाश को परिवार देखभाल अवकाश में परिवर्तित करना, नियमित भर्तियां करना आदि शामिल हैं।

You might also like