केंद्र व प्रदेश सरकार से नियमों में मांगा सरलीकरण

एचडीएमए की राज्य स्तरीय बैठक में गूंजे फार्मा के कई मुददे, नई पालिसी के लिए सीएम व उद्योग मंत्री की सराहना

बरोटीवाला -हिमाचल ड्रग मैनुफैकचरिंग एसोसिएशन की बैठक स्वराज माजरा एमजी रिजेंसी परिसर में संगठन के अध्यक्ष डा. राजेश गुप्ता की अध्यक्षता में हुई जिसमें फार्मा से संबधित कई मुददों पर गहनता से विचार-विमर्श हुआ। महामंत्री मुनीष ठाकुर ने बताया कि वर्तमान में फार्मा उद्योग विभिन्न कारणों से संकट के दौर से गुजर रहा है और इसके उत्थान के लिए एचडीएमए एकजुटता से कार्य कर रही है। हिमाचल प्रदेश में फार्मा उद्योगों के विकास की बहुत संभावनाएं है लेकिन अभी भी प्रदेश व केंद्र स्तर पर कुछ अड़चनें है जिनको दूर किया जाना अत्यंत आवश्यक है। उन्होने कहा कि बहुत से नियमों व कानूनों का अभी भी सरलीकरण किया जाना जंरूरी है। इसके लिए संस्था के पदाधिकारी शीघ्र ही भारत सरकार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री व हिमाचल के स्वास्थ्य मंत्री से मिलेंगे।  संगठन के प्रदेशाध्यक्ष डा. राजेश गुप्ता ने कहा कि केंद्र से हमने पहले भी कई मुददे हल करवाए है और जो भी बाकी मुददे है उनको भी चरणबद्ध तरीके से हल करवाया जाएगा। उन्होने कहा कि युवा सांसद अनुराग ठाकुर के केंद्र में मंत्री बनने से हमारे लिए केंद्र में काम करवाना और ज्यादा आसान हो गया है। इन समस्याओं को लेकर शीघ्र ही अनुराग ठाकुर को भी मिला जाएगा जो कि हिमाचल के विकास के लिए तन मन धन से डटे हुए हैं। इसके अलावा हम प्रदेश के सीएम  से भी मिलेंगे ताकि नियमों का सरलीकरण हो सके और सीएम का हिमाचल को औद्योगिक हब बनाने का सपना साकार हो सके। उन्होने नई औद्योगिक नीति में एमएसएमई को रियायतें देने के लिए सीएम जयराम ठाकुर व उद्योग मंत्री विक्रम सिंह ठाकुर की सराहना की और उनका आभार जताया। इस अवसर पर दवा उद्यमी राजेश बंसल, मनु जैन, बलराम अग्रवाल व विवेक सिंह सहित कई  सदस्य उपस्थित थे।

You might also like