केन्द्र से नशे की समस्या के खात्मे के लिए राष्ट्रीय ड्रग पॉलिसी की मांग

केन्द्र से नशे की समस्या के खात्मे के लिए राष्ट्रीय ड्रग पॉलिसी की मांग

चंडीगढ़ – पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने केन्द्र से नशे की समस्या से पार पाने के लिये राष्ट्रीय नीति तैयार करने का आग्रह किया है । कैप्टन सिंह ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में कहा कि वो गृह, सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालयों को इस महत्वपूर्ण मसले को गंभीरता से सुलझाने की सलाह देें। नशे की समस्या पंजाब की अकेली नहीं बल्कि देश व्यापी है ,इसलिये राष्ट्रीय नीति तैयार करने के लिए प्रधानमंत्री खुद इसमें दखल दें । उन्होंने पत्र में पंजाब की पाकिस्तान के साथ लगती 553 किलोमीटर सीमा तथा देश की सुरक्षा के लिहाज़ से नार्को आतंकवाद से पैदा हुई सुरक्षा चिंताओं का जिक्र किया जो पंजाब के संदर्भ में चिंताजनक है। कैप्टन सिंह ने कहा कि नशे आज एक वैश्विक समस्या बन गया है जिसकी व्यक्तिगत और सामाजिक स्तर पर बड़े स्तर पर सामाजिक-आर्थिक कीमत अदा करनी पड़ रही है। पिछले दो दशकों में नशे की तस्करी बढ़ने से देश में भी ख़तरनाक स्थिति हो गयी है। केंद्रीय सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्रालय की ओर से एम्ज़ के नेशनल ड्रग डिपैंडैंस ट्रीटमेंट सैंटर के सहयोग से फरवरी, 2019 को जारी की गई ताज़ा रिपोर्ट में जिक्र किया गया है कि भारत में नशे ने गहराई तक पांव पसार लिये हैं जिससे निपटने के लिए साझी नीति की ज़रूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर स्तर पर तालमेल बिठाने के लिए तीन चरणीय-कार्यवाही, नशा मुक्ति और रोकथाम की रणनीति अपनाई गई है। राज्य में ‘नशों की समस्या के विरुद्ध व्यापक कार्यवाही ’ (काडा) योजना लागू की जा रही है।

 

You might also like