केरल में कान्हा के दर मोदी

गुरुवायूर मंदिर पहुंचे पीएम, पूजा के लिए किया डिजिटल पेमेंट

गुरुवायूर – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां भगवान श्रीकृष्ण मंदिर में पूजा और विशेष तुलाभारम अनुष्ठान (कमल के फूलों से तौलना) किया। श्री मोदी यहां 10 बजकर 15 मिनट पर गुरुवायूर मंदिर में पहुंचे ओर उन्होंने केरल के पारंपरिक परिधान ‘मुंडु’ (धोती) और ‘अंगवस्त्रम’ पहनकर पूजा अर्चना की। श्री मोदी ने गुरुवायूर मंदिर में तुलाभरम करने की इच्छा व्यक्त की थी। इसलिए मंदिर प्रशासन ने इसके लिए तमिलनाडु से 112 किलो कमल के फूल मंगवाए थे। प्रधानमंत्री ने पारंपरिक परिधान पहनकर पूजा अर्चना की। मंदिर में ‘तुलाभारम’ पूजन परंपरा के तहत श्री मोदी को कमल के फूलों से तौला गया। प्रधानमंत्री भगवान श्रीकृष्ण की मूर्ति के सामने कुछ मिनटों तक खड़े रहे और इसके बाद गणपति और भगवती मंदिर गए। उन्होंने मंदिर में देवी-देवताओं पर घी, फल और फूल चढ़ाए। मंदिर के मुख्य पुजारी वासुदेवन नंबोदरी ने श्री मोदी को प्रसाद दिया। श्री मोदी मंदिर में करीब 30 मिनट तक रहे। इससे पहले शुक्रवार को मोदी ने मंदिर में पूजा के लिए 39,421 रुपए का डिजिटल भुगतान किया। गुरुवयुर केरल के सबसे प्रमुख मंदिरों में से एक है जो 5000 साल पुराना है। इससे पहले श्री मोदी ने 2008 में गुरुवायूर मंदिर का दौरा किया था, जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे। इस बार लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की भारी जीत के बाद वह विशेष पूजा के लिए मंदिर आए हैं। श्री मोदी के साथ केरल के राज्यपाल पी. सदाशिवम, मंदिर मामलों के राज्य मंत्री कटकंबली सुरेंद्रन और विदेश मामलों एवं संसदीय कार्य राज्यमंत्री वी मुरलीधरन भी थे। बाद में प्रधानमंत्री ने गेस्ट हाउस में कुछ समय व्यतीत किया, जहां वह देवास्वम अधिकारियों से मिले और मंदिर शहर के लिए मास्टर प्लान के बारे में चर्चा की। श्री मोदी ने शहर के लिए 450 करोड़ रुपए की विकास योजना का एक ज्ञापन देवस्वाम को सौंपा। उन्होंने कोच्चि रवाना होने से पहले पास के हाई स्कूल के मैदान में एक जनसभा को संबोधित किया।

You might also like