कैबिनेट कमेटी रूम में अफसरों का कमरा

शिमला—राज्य का सचिवालय प्रशासन इसके भवनों की कायाकल्प करने की तैयारी में है। क्यांेकि यहां नए भवन के निर्माण का काम जोरों पर चल रहा है तो उससे बड़ी राहत सचिवालय प्रशासन को मिलेगी। अधिकारियों तक को मौजूदा समय में बैठने के लिए जगह नहीं है। ऐसे में नए भवन से राहत मिलेगी और कई शाखाएं वहां के लिए स्थानांतरित हो सकेंगी। इस साल के अंत तक सचिवालय के भवन का काम पूरा होने की उम्मीद है। इससे पहले यहां पुराने भवनों की काया पलट करने की सोची गई है। जल्दी ही पुराने भवनों में व्हाइट वॉश का काम शुरू होगा और नया कलर कांबिनेशन बनाया जाएगा ताकि शिमला में राज्य सचिवालय का भवन अलग रंग-रूप में नजर आए। दूसरे सरकारी भवनों से यह बिल्कुल अलग होगा, जिसकी तैयारी हो गई है। सचिवालय प्रशासन को सरकार से इस काम को करवाने के लिए मंजूरी मिल चुकी है। इसके साथ अधिकारियों व ऐसे कर्मचारी जिन्हें क्रॉकरी मिलती है तो अब नई क्रॉकरी दी जाएगी। पुरानी क्रॉकरी को पूरी तरह से बदल दिया जाएगा। इसमें खास बात यह होगी कि इस क्रॉकरी में सचिवालय प्रशासन का अपना लोगो लगा होगा। हाल ही में सचिवालय प्रशासन ने अधिकारियों के लिए वेटिंग रूम तैयार किया है।

सुधर नहीं रही शौचालयों की हालत

सचिवालय प्रशासन ने यहां अलग-अलग मंजिलों पर बने शौचालयों को साफ सुथरा रखने के नजरिए से लाखों रूपए का खर्चा किया है परंतु फिर भी इन शौचालयों की हालत में सुधार नहीं हो रहा। यहां पर गंदगी का आलम रहता है। कई दफा तो पानी ही पर्याप्त नहीं होता, जिस कारण बदबू फैली रहती है। सचिवालय में अनगिनत कमरे ऐसे हैं जिनमें टॉयलेट अटैच नहीं हैं।

हर मंजिल में बैठने का इंतजाम

सचिवालय के ऊपरी भवन जिसका नाम एलर्जली है, में हर एक मंजिल पर बाहर से आने वाले लोगों को बैठने के लिए जगह बनाई गई है। यहां पर कुर्सियां लगाई गई हैं, जिसमें लोग इंतजार कर सकते हैं।

You might also like