खुदरा महंगाई में इजाफा

नई दिल्ली – सब्जियों के साथ ही आवास तथा सेवाओं के महंगा होने से इस साल मई में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित खुदरा महंगाई की दर लगातार चौथे महीने बढ़ते हुए 3.05 प्रतिशत पर पहुंच गई। पिछले साल अक्तूबर के बाद सात महीने में यह पहला मौका है, जबकि खुदरा महंगाई तीन प्रतिशत के ऊपर पहुंचीं है। इस साल अप्रैल में खुदरा महंगाई 2.99 प्रतिशत और पिछले साल मई में 4.87 प्रतिशत रही थी। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा यहां बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार मई में शहरी क्षेत्रों में महंगाई काफी तेजी से बढ़ी है। शहरों में खुदरा महंगाई दर 4.51 प्रतिशत तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 1.86 प्रतिशत रही। खाद्य पदार्थों की खुदरा महंगाई दर मई में 1.83 प्रतिशत रही। शहरी क्षेत्र की खाद्य मुद्रास्फीति 5.87 प्रतिशत रही, जबकि ग्रामीण इलाकों में खाद्य मुद्रास्फीति शून्य से 0.22 प्रतिशत नीचे रही। आंकड़ों के अनुसार मई सब्जियों की महंगाई दर 5.46 प्रतिशत रही।

You might also like