गंदगी देख खुद ही उठा लिया पोंछा

गोहर-सिविल हास्पिटल गोहर में अपनी माता के उपचार के लिए आई महिला ने वार्ड के शौचालयों की स्वेच्छा से सफाई करके एक नई मिसाल पेश की है। 44 वर्षीय ठाकरी देवी पत्नी लीलाधर गांव चुडारा, डाकघर नांडी तहसील गोहर की रहने वाली है। ठाकरी देवी की माता का गोहर अस्पताल में बीते एक सप्ताह से उपचार चल रहा है और वह महिला वार्ड में भर्ती है। गोहर अस्पताल में सफ ाई कर्मियों के सभी पद खाली चल रहे हैं, जिसके कारण अस्पताल की सफ ाई व्यवस्था बुरी तरह से चरमरा गई है। रविवार को ठाकरी देवी ने महिला वार्ड के शौचालयों में पसरी गंदगी देखी तो उससे रहा नहीं गया। पोंछा और बाल्टी उठाकर शौचालयों की स्वेच्छा से सफ ाई कर डाली। ठाकरी देवी से जब इस बारे में बात की गई तो उसने बताया कि गंदगी के कारण वार्ड के सभी मरीजों को दिक्कतें आ रही थीं, लेकिन सफ ाई के लिए कोई कर्मी मौजूद नहीं था। जिसके कारण खुद ही सफ ाई करने की सोची। ठाकरी देवी के इस कार्य की वार्ड में उपचाराधीन सभी मरीजों और उनके साथ आए तीमारदारों ने जमकर प्रशंसा की। वहीं, जब इस बारे में सिविल अस्पताल गोहर के प्रभारी डा. कुलदीप शर्मा से बात की गई, तो उन्होंने बताया कि अस्पताल में सफाई कर्मियों सहित अन्य पद खाली चल रहे हैं, जिसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को कई बार दी जा चुकी है। उन्होंने ठाकरी देवी द्वारा स्वेच्छा से किए कार्य की प्रशंसा की और उसे इसके लिए बधाई दी।

You might also like