गर्मी का सितम…कड़क धूप ने निचोड़े छात्र

पांवटा साहिब—जिला सिरमौर के गर्म इलाकों में आग उगलती गर्मी से स्कूली बच्चों का जीना मुहाल होता जा रहा है, लेकिन जिला प्रशासन को जैसे इसकी सुध ही नहीं है। जिला ऊना में जिला प्रशासन ने गर्मी को देखते हुए स्कूलों की समयसारिणी में बदलाव कर दिया है, लेकिन सिरमौर में भयंकर गर्मी होने पर भी स्कूलों की समयसारिणी में कोई बदलाव फिलहाल नहीं किया गया है, जिससे अभिभावक अपने बच्चों के लिए खासे चिंतित हैं। जानकारी के मुताबिक जिला के कालाअंब, पांवटा साहिब क्षेत्र सहित ददाहू और सतौन आदि इलाके मंे आजकल आग उगलती गर्मी पड़ रही है। इस गर्मी की सबसे ज्यादा मार स्कूली बच्चों पर पड़ रही है, जिनकी छुट्टी भरी गर्मी में दो से तीन बजे तक होती है। अभिभावक जिला प्रशासन से मांग कर रहे हैं कि गर्मियों के दौरान स्कूलों की समयसारिणी में बदलाव किया जाए, ताकि उनके बच्चे लू लगती गर्मी और डिहाइड्रेशन से बच सकें। गौर हो कि पांवटा साहिब और कालाअंब में पिछले तीन-चार दिनों से तापमान 42 से 43 डिग्री तक चल रहा है, वहीं सतौन और ददाहू मंे भी 40 डिग्री के पार पहुंच चुका है। हिमाचल प्रदेश विज्ञानाध्यापक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अजय शर्मा, कोषाध्यक्ष राजकुमार पराशर, जिलाध्यक्ष मोहन लाल शर्मा आदि ने भी जिला प्रशासन से मांग की है गर्मी का प्रकोप बढ़ने पर जिला के पांवटा, कालाअंब, ददाहू, सतौन आदि गर्मी से प्रभावित स्कूलों में समय की कटौती की जाए, ताकि बच्चे गर्मी से बच सके।

You might also like