गुगरा में बस के लिए चक्का जाम

आनी —बसों में ओवरलोडिंग बंद किए जाने से आनी मुख्यालय से अलग-अलग क्षेत्रों के लिए जाने वाले स्कूली बच्चों और लोगों के लिए अतिरिक्त बसों का प्रावधान नहीं होने से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों और छात्र-छात्राओं को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में विशेषकर स्कूली बच्चों को स्कूल, कर्मचारियों को दफ्तर और आम लोगों को आनी मुख्यालय पहुंचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। स्कूल जाने के लिए कोई विकल्प न मिलने के कारण लोगों, स्कूल और कालेज के छात्र-छात्राओं ने आनी से आठ किलोमीटर दूर  गुगरा नामक स्थान पर चक्का जाम कर दिया । सुबह जब करीब साढ़े नौ बजे आनी से नगाली कैंची बस में च्वाई के सरकारी और निजी विद्यालयों के बच्चे बस में सवार हुए तो उन्हें परिचालक ने ओवरलोडिंग न करने के चलते बाहर निकाल दिया।  गुस्साए बच्चों, अभिभावकों और आम लोगों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ  नारेबाजी की और मांगें पूरी करने के लिए धरना प्रदर्शन किया। समाजसेवी मदन ने बताया कि इस बारे में प्रशासन को सूचना दी गई, जिसके बाद मौके पर पुलिस प्रशासन पहुंचा। मौके पर डीएसपी, एसएचओ और पुलिस जवानों ने बच्चों को समझाने और शांत करने का भरपूर प्रयास किया लेकिन गुस्साए बच्चों ने एक न सुनीं।  इस दौरान लगभग सात सरकारी, एक निजी बस समेत तीस-चालीस गाडि़यां जाम में फंसी रहीं, जिससे कई कर्मचारियों को दफ्तर पहुंचने और लोगों को अपने आवश्यक कामकाज को करने के लिए आनी मुख्यालय पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा। चक्का जाम की स्थिति बढ़ता देख एसडीएम आनी चेत सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने बच्चों और लोगों को आश्वासन देकर शांत कर दिया। उन्होंने कहा कि बुुुधवार से स्कूली बच्चों के लिए विशेष बस सुविधा प्रदान की जाएगी । इसके बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ । गौरतलब है कि बंजार के भेउट हादसे के बाद बसों में ओवरलोडिंग को  सरकार द्वारा पूर्णतया बंद किए जाने के फरमान से आम लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा ।

You might also like