गोकुल मिशन के लिए 20 करोड़

मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा, गो-संरक्षण के लिए केंद्र ने दिया बजट

शिमला —हिमाचल प्रदेश को केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय गोकुल मिशन के अंतर्गत 20 करोड़ 11 लाख रुपए की राशि जारी की है। इस राशि के तहत पशुपालन विभाग को गो संरक्षण व संवर्द्धन के लिए कई विकास कार्य किए जाएंगे। शिमला में आयोजित राष्ट्रीय गोकुल मिशन के अंतर्गत एक दिवसीय राज्य स्तरीय संगोष्ठी के दौरान ग्रामीण विकास पंचायती राज व पशुपालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि इस योजना के तहत भू्रण प्रत्यारोपण प्रयोगशाला पालमपुर में लालसिंधी, साहिवाल नस्ल की गउओं में भ्रूण प्रत्यारोपण तकनीक पर कार्य आरंभ करने के लिए एक करोड़ 95 लाख रुपए की राशि गोकुल ग्राम की स्थापना के लिए नौ करोड़ 95 लाख रुपए, मुर्ररा भैंस प्रजनन फार्म स्थापित करने के लिए पांच करोड़ छह लाख रुपए तथा वीर्य केंद्र आदोवाल के उन्नयन के लिए दो करोड़ 15 लाख रुपए स्वीकृत किए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहला बीटल गॉट फार्म हमीरपुर के ताल क्षेत्र में एक करोड़ रुपए की लागत से स्थापित किया जा रहा है। प्रदेश के पांच जिलों में परीक्षण के आधार पर 770 दुधारुओं का पशु संजीवनी योजना के अंतर्गत पंजीकरण किया गया है। इस मौके पर मंत्री ने विभागीय योजनाओं और कार्यो की समीक्षा भी की। निदेशक पशुपालन विभाग डा. सुरेश कुमार चौधरी ने केंद्र सरकार द्वारा प्रायोजित राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत पशु संजीवनी कार्यक्रम के संबंध में जानकारी दी। वहीं उन्होंने कहा कि प्रदेश में प्रथम चरण में इस योजना के तहत नौ लाख 60 हजार दुधारू पशुओं के कान में टैग लगाने तथा पशुपालकों को नकुल स्वास्थ्य पत्र प्रदान किए जाएंगे।

You might also like