चार साल में डिजिटल भुगतान दोगुने से ज्यादा

नई दिल्ली -देश में फिनटेक कंपनियों की तेजी से जारी विस्तार के बल पर वर्ष 2023 तक डिजिटल भुगतान के दोगुना से अधिक बढ़कर 135.2 अरब डालर पर पहुंचने की संभावना है। भारत डिजिटल लेन-देन में बढ़ोतरी के मामले में चीन और अमरीका को पछाड़ देगा। अभी भारत में डिजिटल लेन-देन 64.8 अरब डालर है, जबकि चीन इस मामले में 1.56 लाख करोड़ डालर के डिजिटल भुगतान के साथ अव्वल देश बना हुआ है। उद्योग संगठन एसोचैम और पीडब्ल्यूसी की एक अध्ययन रिपोर्ट के अनुसार साल 2019 से 2023 के दौरान देश में डिजिटल भुगतान में तीव्र बढ़ोतरी होने का अनुमान है। इसमें वार्षिक 20 फीसदी से अधिक की बढ़ोतरी हो सकती है। इस अवधि में चीन में डिजिटल लेन-देन में 18.5 प्रतिशत और अमरीका में 8.6 प्रतिशत की वृद्धि होने का अनुमान है। वैश्विक स्तर पर डिजिटल लेनदेन मूल्य के मामले में अगले चार सालों में भारत की हिस्सेदारी वर्तमान के 1.56 प्रतिशत से बढ़कर 2.02 प्रतिशत हो जाएगी। 

You might also like